एक जिस्म दो जान बनकर जी रहे है सोहणा मोहणा, असंभव को किया संभव लेकिन आ रही कई दिक्कते

3698

हमारे सामने अक्सर कई ऐसे ऐसे उदाहरण देखने में आते रहते है जिनको देखने पर हमें अपनी आँखों पर यकीन होता नही है लेकिन फिर भी ये सब कुछ सच होता है और इसी के कारण से बहुत से ऐसे लोग भी है जो इतनी मुश्किल जिन्दगी जीते है जिसकी तो हम लोग कल्पना भी नही कर सकते है. अभी आज हम आपको जिनके बारे में बताने जा रहे है वो दो जुडवा भाई है लेकिन उन्हें जाना जाता है एक शरीर और दो जान के नाम से क्योंकि वाकई में ऐसा ही है.

नाम है सोहणा और मोहणा, दोनों के शरीर है जुड़े हुए
ये पूरा मामला है पिंगलवाड़ा के रहने वाले दो भाइयो का जिनके नाम है सोहणा और मोहणा. इन दोनों की उम्र पूरे 18 वर्ष है और इनके शरीर आपस में जुड़े हुए है. इनके ऊपर का धड और कुछ हिस्सा है जो अलग से है जबकि बाकी का नीचे का हिस्सा लगभग एक ही है और इस वजह से दोनों को एक साथ में ही चलना फिरना और पढ़ना लिखना आदि पड़ता है. दोनों बाकायदा इसे ख़ुशी ख़ुशी करते भी है.

तोड़े सारे भ्रम, जी सकते है ऐसे शरीर में भी
अब तक लोगो में भ्रम था कि अगर इस तरह के जुड़े हुए शरीर में कोई बच्चे पैदा हो जाते है तो उनकी उम्र अधिक नही होती है लेकिन इस तरह के सारे मिथक इन दोनों भाइयो ने मिलकर के समाप्त कर दिए है क्योंकि इन्होने सफलता के साथ में अपने जीवन के 18 वर्ष पूरे कर लिए है और अभी ये लोग अपने जीवन को और अधिक बुलंदी पर ले जाना चाहते है. इसके लिए दोनों भाई पढ़ाई भी करते है और पढने में ये दोनों ही औसत है जो हम लोग देख ही सकते है.

नौकरी के लिए आ रही दिक्कत, दिव्यांग सर्टिफिकेट भी नही बन पा रहा
हाँ इनके लिए सरकारी महकमे में और नौकरी आदि में कई दिक्कते जरुर आ रही है. अब दोनों के शरीर एक होने का कोई भी प्रावधान क़ानून नियमो में है नही जिस आधार पर इनको दिव्यांग होने का सर्टिफिकेट मिल जाए. इस सर्टिफिकेट के न हो पाने की वजह से ये दोनों को कई सरकारी फायदों से भी महरूम रहना पड़ता है.

यही नही एक दिक्कत नौकरी को लेकर के भी है. पॉवरकोम जहाँ पर ये लोग नौकरी करने जा रहे है वहां पर भी अधिकारी माथापच्ची कर रहे है कि एक को नौकरी देंगे तो दूसरा भी साथ मे आयेगा तो ऐसे में एक को नौकरी मिलेगी या फिर दोनों को? फिर जो वेतन होगा उसका वितरण किस तरह का से किया जाएगा? तो इस तरह की समस्याएं तो आ ही रही है.