योगी आदित्यनाथ से शुरू किया महा मिशन, महाराष्ट्र के लिये टेंशन

122

अभी योगी आदित्यनाथ जब से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने है उसके बाद से ही वो काफी अधिक अच्छे तरीके से अपने राज्य को ग्रोथ देने में लगे हुए है और ये उनका लक्ष्य साफ़ तौर पर नजर आता भी है क्योंकि चाहे फिल्म सिटी का काम हो, एक्सप्रेस वे बनाने हो या फिर और भी कई कानूनी सुधार करने हो उसमे वो काफी आगे निकल रहे है और अभी उन्होंने एक और बड़ा काम शुरू किया है जो यूपी के लोगो के द्वारा बहुत ही ज्यादा लम्बे समय से लिस्ट में रखा हुआ था.

योगी सरकार ने शुरू किया देश का सबसे बड़ा रोजगार मिशन, महाराष्ट्र जैसे राज्यो में काम के लिए जाने की जरूरत कम पड़ेगी
उत्तर प्रदेश की योगी आदित्य नाथ सरकार ने अभी हाल ही में एक रोजगार मिशन शरू किया है जिसके तहत वो इस वित्त वर्ष के भीतर भीतर 50 लाख के करीब युवाओं को उत्तर प्रदेश में ही रोजगार दिलाने वाले है और ये बिलकुल उच्च स्तर के स्किल्ड काम होंगे जिनमे लोगो को काम दिलवाया जायेगा और उनकी आमदनी बढ़ाई जायेगी. ये फैसला यूपी के लिए तो अच्छा है लेकिन कुछ राज्यों के लिए थोडा सा असमंजस लेकर के आ सकता है.

आज की डेट में महाराष्ट्र के मुंबई जैसे समृद्ध शहरो में उत्तर प्रदेश से भारी मात्रा में लेबर फ़ोर्स जाती है और वहां का काम काफी रेट में कर भी देती है लेकिन अगर उनको अब अपने ही गृह राज्य में काम मिलने लग जाता है तो ये विस्थापन काफी कम होगा और इससे महाराष्ट्र जैसे राज्यों में लेबर चार्जेज हो गये या फिर कहे बाकी चीजे बढ़ेगी तो ये थोड़ी सी चिंता की बात हो सकती है हालाँकि इसे और राज्यों से पूर्ती की जा सकती है लेकिन फिर भी एक बार के लिये थोडा जूझना तो पड़ेगा.

इस रोजगार मिशन के लिए योगी आदित्यनाथ ने बड़े स्तर पर काम करने के आदेश दे दिए है और एक काफी बड़ा सरकारी महकमा इसे पूरा करने में लगा हुआ है जिसके परिणाम आपको कुछ महीने में देखने को मिल सकते है.