बीजेपी ने हैदराबाद में घुसकर ओवैसी की पार्टी को धो दिया, सबको चौंका रहा रिजल्ट

119

अभी हाल ही में भारतीय जनता पार्टी ने काफी ज्यादा बढ़ चढ़कर के हैदराबाद के चुनावों में हिस्सा लिया था और काफी बड़ी संख्या में लोगो ने इस पर हैरानी जताई थी कि हैदराबाद के लोकल इलेक्शन में आखिर बीजेपी अपने योगी, मोदी और अमित शाह जैसे बड़े बड़े नेता क्यों उतार रही है? मगर जब रिजल्ट आया तो सब कुछ पूरी तरह से साफ़ हो गया और आज की डेट में बीजेपी वहाँ की सिंगल लार्जेस्ट पार्टी के रूप में पूरी तरह से उभर चुकी है.

बीजेपी ने हैदराबाद में 87 सीटो पर लीड हासिल की, ओवैसी 17 पर पिछड़े
भारतीय जनता पार्टी ने अभी हाल ही में जब चुनावी गिनती शुरू हुई तो पहले ही इसमें बढ़त बनानी शुरू कर दी और 12 बजे तक की गिनती का डाटा अगर हम देखे तो अभी हैदराबाद लोकल बॉडी इलेक्शन में भारतीय जनता पार्टी ने कुल 87 सीटो पर बढ़त बना ली है. वही बात करे अगर हम टीआरएस की तो टीआरएस ने 33 सीटे हासिल की है जबकि ओवैसी की पार्टी महज 17 पर ही सिमटते हुए नजर आ रही है. अब माने भी लेते है कि कोई बड़ा उलटफेर हो जाता है तो भी ये 10 सीट से ज्यादा तो हो नही सकता है.

ऐसे में आप ये तय तौर पर मान सकते है कि भाजपा हैदराबाद का चुनाव जीत चुकी है और अब जिस तरह का रिस्पोंस उन्हें मिला है उसके बाद में हैदराबाद को भाग्यनगर करने की बात से भी वो पीछे तो नही हटेगी. संबित पात्रा ने भी इस जीत के लगभग करीब आ जाने के बाद में भाग्यनगर नाम से ट्वीट करके जता दिया है कि वो जीत हासिल कर चुके है और ये देश को तोड़ने वाली ताकतो के खिलाफ एक बड़ा संकेत है.

एक समय में जिस हैदराबाद में ओवैसी का काफी दबदबा माना जाता था वहाँ पर मोदी शाह और योगी की तिकड़ी ने मिलकर के बिलकुल उसे सफाये की कगार पर लाकर के खड़ा कर दिया है और अब उनके लिए चिंता की बात तो ये है कि क्या ओवैसी अगले चुनावों में अपनी सांसदी बचा पायेंगे या फिर नही.