आखिरकार किसान आँदोलन से जुडी एक राहत भरी खबर आ गयी है

517

अभी किसान आन्दोलन के कारण देश की राजधानी दिल्ली एक तरह से पस्त होती चली जा रही है और दिक्कते तो बढ़ ही रही है जो जाहिर तौर पर होना ही था क्योंकि लगभग लाखो की संख्या में किसान पंजाब और हरियाणा से निकले है और उन्होंने कई सड़के जाम करके रख दी है और इससे इकॉनमी को भी काफी लोस हो रहा है. अब तक किसानो ने काफी अड़ियल रवैया रखा हुआ था लेकिन अब जाकर के एक अच्छी और राहत से भरी हुई खबर आ ही गयी है.

विज्ञान भवन में पहुंचे किसान नेता, नरेंद्र तोमर और पीयूष गोयल से जारी बातचीत
किसानो ने अब अपना गुस्सा थोडा कम किया है और वो सरकार के दिए प्रस्ताव के अनुसार उनके कुछ एक लीडर वार्ता के लिए विज्ञान भवन दिल्ली पहुंचे है जहाँ पर रेल मंत्री पीयूष गोयल और कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर दोनों ही मौजूद है. ये वार्ता लगभग साढ़े 3 बजे शुरू हुई थी और अभी भी ये जारी है जहाँ पर सरकार अपनी बाते रख रही है और किसान अपनी बाते रख रहे है ताकि दोनों आपस में मामला सुलझा सके.

अभी के लिए इसे एक राहत भरी खबर इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि पिछले काफी दिनों से जितना भी हो रहा था सब कुछ बुरा ही बुरा हो रहा था. अब जाकर के कुछ अच्छा देखने और सुनने में आ रहा है और लग रहा है कि हाँ अब अगर ये बातचीत चलती रहती है तो दोनों ही पार्टियाँ एक पॉइंट पर पहुंचेगी और आखिर में इस मुद्दे का हल निकलेगा जिससे कि अम लोगो को जो दिल्ली के लोग है उनके लिए सड़के फिर से खुलने लग जायेगी.

कही न कही इस घटना ने बताया है कि सरकारे किसानो के पक्ष में और हक में सुनने की कवायद कर रही है और अगर उनकी मांगे मान ली जाती है तो फिर जाहिर तौर पर चीजे बहुत ही जल्दी सोल्व हो जायेगी ऐसी उम्मीद की जा रही है.