शिवराज सिंह पर लगे सिंधिया को बेइज्जत करने के आरोप, जानिये क्या है पूरा मामला

200

पुरानी कांग्रेस सरकार का तख्ता पलटने के बाद में अभी फ़िलहाल महाराष्ट्र में बीजेपी की सरकार है और इसमें ज्योतिरादित्य सिंधिया का कितना हाथ है इस बात को कोई भी नकार नही सकता है, अब ऐसे में जब भी कोई छोटा बड़ा या किसी भी कारण से इवेंट हो जाता है तो फिर उस पर भी लोग अपने अपने तरीके से उसे देखने लगे है और ये मामला अभी सिंधिया के मामले में तो कुछ ज्यादा ही हो रहा है और ऐसा होना लाजमी भी है क्योंकि कांग्रेस ऐसे ही मौके के ताक में रहती है.

कांग्रेस का आरोप, सिंधिया को 40 मिनट इन्तजार करवाकर सिर्फ 10 मिनट मिले
मुख्यमंत्री अभी हाल ही में ज्योतिरादित्य सिंधिया किसानो के कुछ मुद्दे लेकर के मध्य प्रदेश केवर्तमान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पास में गये थे और वहां पर शिवराज सिंह चौहान ने उनको 45 मिनट का वक्त दिया था. मगर वो 40 मिनट देरी से आये और फिर 10 मिनट की ही मुलाक़ात करके चल दिए. अब इसके पीछे कई कारण हो सकते है क्योंकि वो एक मुख्यमंत्री है तो उनके लिए काम का कोई भी पार तो होता नही है.

अब ऐसी परिस्थिति में सिंधिया ने कुछ बुरा नही माना लेकिन कांग्रेस ने इस पर बखेड़ा कर दिया है. मध्य प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने भी ट्वीट करके कहा कि शिवराज जी ने 40 मिनट इन्तजार करवाने के बाद में सिर्फ 10 मिनट दिए श्रीअंत जी को. जब कांग्रेस में थे तो लोगो से इंजतार करवाते थे श्री अंत. आखिर उनका कितना सम्मान गिरवाएंगे?

इस तरह के मुद्दे उठाकर के कांग्रेस को बार बार यही लग रहा है कि वो भावनात्मक तरीके से खेलकर के ज्योतिरादित्य सिंधिया को एक बार फिर से कांग्रेस पार्टी में ले आयेंगे और उनकी सत्ता होगी लेकिन अभी ऐसा कुछ भी होते हुए नजर आ नही रहा है क्योंकि सिंधिया जब गये है तो कुछ निर्धारित करके फिर ही गये है.