गुलाम नबी आजाद पर कांग्रेस के ही लोगो ने लगाये आरोप, ये पार्टी को तोडना चाहते है और फिर

66

अभी कांग्रेस पार्टी के अन्दर उपरी स्तर पर काफी ज्यादा उथल पुथल चल रही है और सब लोग इस चीज को नोटिस कर भी रहे होंगे क्योंकि जिस  तरह की स्थिति लगातार हारने की बाद में किसी भी पार्टी में हो सकती है वो सारी की सारी दिक्कते वो फेस कर रहे है और अब तो हाल ये हो रहे है कि कान्ग्रेस के ही अपने नेता एक दुसरे पर आरोप से लेकर प्रत्यारोप लगा रहे है और बाते अब पार्टी तोड़ने तक पर आ गयी है जो काफी गंभीर मसला हो सकता है.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कुलदीप विश्नोई का दावा, पार्टी तोडना चाहते है गुलाम नबी आजाद
हरियाणा कांग्रेस में कुलदीप विश्नोई एक काफी जाना माना और बड़ा नाम है. उन्होंने एक बयान जारी करते हुए कहा है कि आज ये पार्टी तोड़ने की ये साजिश है जो आजाद साहब विपक्षी पार्टियों के साथ में मिलकर के कर रहे है. मैं आजाद साहब को ये बात बता देना चाहता हूँ कि आपके इस षड्यंत्र को हम कामयाब नही होंगे देंगे. ख़ास बात ये है कि खुद कुलदीप बिश्नोई भी एक बार कांग्रेस से अलग हो चुके है और अलग पार्टी बनाई थी लेकिन बादमे वो दुबारा साथ में आ गये थे.

दरअसल इन दिनों में कपिल सिब्बल और गुलाम नबी आजाद के सुर काफी बदले बदले से है. वो लगातार कांग्रेस के नेतृत्व पर सवाल खड़े कर रहे है और कह रहे है कि ठीक तरीके से काम नही कर रही है, कार्यकर्ताओं का ख्याल नही रखा जा रहा है और तमाम तरह की बाते हो रही है जिसके चलते हुए कुलदीप बिश्नोई समेत कई कांग्रेस नेता है जो इनके खिलाफ बोलने लग गये है.

ऐसे में गुलाम नबी आजाद का आगे का क्या  स्टैंड होता है? क्या वो आगे चलकर के वाकई में कुछ ऐसा ही करने वाले है या फिर कांग्रेस में सुधार करने के लिए स्ट्रगल करेंगे? सवाल कई सारे है मगर जवाब वक्त ही दे पायेगा.