पीएम मोदी ने बुलायी मुख्यमंत्रियो के साथ हाई लेवल बैठक, इस टेन्शन में है

223

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन दिनों काफी चिंता से होकर के गुजर रहे है क्योंकि देश की स्थिति कुछ ख़ास और ठीक तरीके से चल नही रही है. एक तरफ ये करोना की दिक्कत सुधरने का नाम ले नही रही है और दूसरी तरफ एक बार फिर से देश भर लॉकडाउन लगाने और कर्फ्यू आदि लगाने जैसी स्थितियां आन पड़ी है. ऐसे में जरूरी है कि केंद्र राज्य सरकारों के साथ में मिलकर के इस दिक्कत का हल निकाले और अपने आपको इस समस्या से दूर करे जिसकी पहल फिर से हुई है.

पीएम मोदी करेंगे मुख्यमंत्रियो संग बैठक, राज्य के हालात और टीके के वितरण पर करेंगे चर्चा
देश में अभी दो से तीन ऐसे टीके है जो अपने ट्रायल के अंतिम चरण में है और आने वाले एक से डेढ़ महीने में देश में पहला टीका आने की संभावना है. अभी भारत को इसकी जरूरत भी ज्यादा है क्योंकि सर्दियों में केस तेजी से बढ़ने लगे है और ऐसे में जैसे ही करोना के टीके आते है तो फिर उसको सही तरीके से वितरित करते हुए लोगो तक कैसे पहुंचाया जाये? जाहिर तौर पर सवाल उठना  लाजमी भी है, क्योंकि अगर टीके की बंदरबाँट शुरू हुई तो आम लोगो तक ये पहुच ही नही पायेगी.

इस कारण से प्राधानमंत्री मोदी मुख्यमंत्रियो से बात करके टीके को देश भर में हर व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए रणनीति विकसित करेंगे. किस तरह से इनको रेफ्रिजरेट करते हुए जिला स्तर पर पहुंचाया जाए फिर मेडिकल कर्मचारीयो को ये पहले मिले, इसके बाद जो भी जरूरतमंद है उनको ये टीका दिया जाए. कई सारी चीजे है जिन पर ध्यान दिया जाएगा और इससे लोगो तक टीका लांच होते ही केंद्र और राज्य सरकारे मिलकर के जल्दी से जल्दी पूरे सही वितरण प्रकिया के माध्यम से पहुंचा देगी.

वैसे अदार पूनावाला का कहना है कि टीका 2021 की शुरुआत में ही आयेगा मगर जिस तरह की स्थिति देश में बन रही है उसके बाद में इतना नजर आने लगा है कि सरकार इसे इमरजेंसी अप्रूवल भी दे सकती है और ये एक अच्छी खबर हो सकती है.