इस मुस्लिम लड़के ने उठाये जब पीएम मोदी के ऊपर सवाल, तो देखिये उसके साथ क्या हुआ

484

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हमेशा से ही अपनी प्रभावशीलता और बहुत ही शांत स्वभाव के साथ में लॉन्ग टर्म के लिए कार्य करने वाले नेताओं में से एक माने जाते रहे है. इस कारन से चाहे उनके राज्य स्तर की सरकारे रही हो या फिर केंद्र में वो पीएम पद पर रहे हो, सब जगहों पर उनका काम कही न कही सब लोगो से अलग और काफी आइकोनिक रहा है ऐसा माना जाता है. ऐसा ही एक किस्सा है जो उनसे ही और एक मुस्लिम छात्र से जुड़ा हुआ है और ये बात आपको जरुर जाननी चाहिए.

सुलतान अलीमुद्दीन ने लिखा मोदी के खिलाफ, मोदी ने ऑफिस में बुलाकर दिया जवाब
ये तब की बात है जब नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री हुआ करते थे और गुजरात में 2002 जैसी घटनाएं हुई थी जिसकी जांचे चल रही थी. इन सबसे परेशान एक मुस्लिम व्यक्ति सुल्तान अलीमुद्दीन ने सोशल मीडिया पर तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना की और उनकी जांचो में प्रभावशीलता पर सवाल खड़े किये. इस पर तुरंत गुजरात सरकार से उनको जवाब आया और उन्हें मिलने के लिए सीएम दफ्तर पर बुलाया गया.

अब सुलतान को लगा कि कुछ गडबड होने वाली है लेकिन तब मोदी जी उससे बड़े ही अच्छे से मिले और उससे कहा कि मैं कभी भी मुस्लिमो के लिए कुछ स्पेशल नही करता हूँ ये ठीक वैसे ही है जैसे मैं हिन्दू सिख इसाई या किसी के लिए भी नही करता हूँ. मेरे ऊपर गुजरात के करोडो लोगो की जिम्मेदारी है और मैं बस उनके लिए काम करता हूँ, आज हमें राज्य को कई क्षेत्रो में आत्मनिर्भर बनाना है आयात करना है और विकसित होना है न कि ये सब करना है. बस इस मुलाक़ात ने सुलतान की जिन्दगी और सोच को बदलकर के रख दिया.

तब से वो पीएम मोदी के लिए अपने मन से प्रचार करते है और लोगो को बताते है कि वो कितना अच्छा काम कर रहे है. यही नही इसके बाद से ही वो अब तक प्रधानमंत्री मोदी से छः बार मुलाक़ात भी कर चुके है जो बताता है कि उनको पीएम मोदी ने कैसे बदलकर के रख दिया.