उप मुख्यमंत्री पद छिनने से नाराज हुए सुशील मोदी, शाह के सामने कर दी ऐसी हरकत

513

बिहार में अभी चुनाव हाल ही में ही निपटे है और ये चुनाव अपने आप में काफी अधिक महत्त्व से भरे हुए और काफी अधिक बड़े स्तर चेंज लाने वाले नजर आये है. हालांकि नीतीश कुमार एक बार फिर से मुख्यमंत्री बन गये है लेकिन समस्या यहाँ पर सुशील मोदी के साथ में हो गयी है जिन्होंने शायद सोचा था कि कम से कम इस बार वो कुछ नही तो उप मुख्यमंत्री तो बन ही जायेंगे लेकिन ऐसा हो नही सका और इस बार उन्हें नीतीश मंत्री मंडल से बाहर करते हुए उनकी जगह ताराकिशोर और रेणु देवी को दे दी गयी है.

शाह के साथ बीजेपी ऑफिस नही गये सुशील मोदी, नयी गठन प्रक्रिया में भी मौजूद नही रहे
अब सरकार का निर्णय हो गया है और अमित शाह जब बिहार गये थे तो उनका स्वागत करने के लिए तो सुशील मोदी गये थे लेकिन जब उनके साथ में सब दिग्गज लोग बीजेपी दफ्तर गये तो सुशील मोदी अमित शाह के साथ नही गये जो कि हमेशा की तरह जाना बनता था. यही नही वो नयी सरकार की गठन प्रक्रिया में भी कही पर भी नजर नही आये.

अन्दर के सूत्र बताते है कि सुशील मोदी ने केन्द्रीय नेतृत्व के सामने इस फैसले को लेकर के नाराजगी जताई है क्योंकि वो आगे भी नीतीश कुमार के साथ में काम करना चाहते थे लेकिन क्योंकि अब ये चीजे नही हुई है तो फिर ऐसी स्थिति में थोड़ी सी उठापटक होनी भी लाजमी सी बात है. ऐसे में अब बीजेपी एक ऐसी पार्टी है जहाँ पर आपको हाई कमान की बात तो माननी ही पडती है चाहे आपका प्रमोशन किया जाए या फिर आपको कही से किसी दूसरी जगह पर ट्रांसफर किया जाए.

अब ऐसे में आगे चलकर के क्या होगा? क्या वाकई में कुछ ऐसे बदलाव देखने में आयेंगे जो शायद सुशील मोदी को पसंद न आये और उनके दोस्त बन चुके नीतीश कुमार भी फ़िलहाल तो इस पर कुछ भी बोलने से बच रहे है.