चुनाव के बाद अपनी ही बात से पलट गये नीतीश कुमार, बीजेपी वाले भी हैरान

524

एक बार फिर से बिहार में एनडीए को बहुमत मिल गया है और काफी सही मात्रा में मिला है. हालांकि बहुमत के आंकड़े से इस बार बहुत आगे नही निकले है लेकिन बीजेपी के कारण नीतीश कुमार एक बार फिर से मुख्यमंत्री  पद पर बने रह पा रहे है और इस बात में कोई भी दो राय नही है. कही न कही उनकी पॉवर घटी है और ऐसे में साफ नजर भी आता है कि नीतीश अब उतने अधिक विश्वसनीय चेहरे रहे नही है. अब उनके बयान भी कुछ इसी टाइप के ही आ रहे है.

चुनाव से पहले नीतीश ने कहा था ये मेरा अंतिम चुनाव, अब कहने लगे मेने ऐसा कुछ नही कहा
नीतीश कुमार की अगुवाई में इस बार का चुनाव लड़ा गया था और इस चुनाव में सब लोग अपने अपने तरीके से बातो को रख रहे है और दर्शा रहे है. नीतीश ने अपनी तीसरे चरण की चुनावी रैली में कहा था कि चुनाव का ये अंतिम दिन है. इसके बाद चुनाव खत्म हो जायेंगे और ये मेरा आखिरी चुनाव है. अंत भला तो सब भला. इसके बाद में हर जगह खबर फ़ैल गयी कि नीतीश कुमार बस अब आखिरी बार ही चुनाव लड़ रहे है.

मगर हाल ही में एएनआई ने जो रिपोर्ट प्रकाशित की है उसके अनुसार वो बात से वो पलट ही गये है. अपने अगले बयान में उन्होंने कहा कि मैंने रिटायरमेंट की बात ही नही की थी. मैं तो अपनी हर चुनाव की अपनी आखिरी रैली में में एक ही चीज कहता हूँ, अंत भला तो सब भला. अगर आप मेरे भाषण सुनेंगे तो आपके सामने सब साफ़ हो जाएगा. यहाँ पर नीतीश कुमार अपनी रिटायरमेंट वाली बात से साफ तौर पर मुकर गये.

इससे कही न कही बहुत से सीएम इन वोटिंग नेता और ख़ास तौर पर सुशील मोदी को भी एक झटका लगा है जो ये सोचकर के बैठे थे कि  चलो इस बार न सही लेकिन अगली बार के चुनावों में ही हम सीएम उम्मीदवार घोषित हो जायेंगे.