ओवैसी ने किया अब ऐसा ऐलान, जिससे बीजेपी को होगा सीधा फायदा

650

अभी अभी बिहार के चुनाव निपटे है और इसमें सभी पार्टियों ने अपनी अपनी ताकत लगाई है लेकिन इन सबमे एक पार्टी काफी आश्चर्य भरे तरीके से उभरी है और वो है ओवैसी की पार्टी एएमआईएम जिसने बिहार में पूरी पांच सीट्स जीती है जो इस पार्टी की हैसियत के हिसाब से काफी ज्यादा है और ऐसे में अब ओवैसी का मनोबल काफी ज्यादा बढ़ चुका है और ये अपनी पार्टी को और भी ज्यादा  राज्यों में धीरे धीरे करके ले जाने पर विचार कर रहे है जो शायद बीजेपी को सीधा फायदा देने वाला हो सकता है.

बंगाल में चुनाव लड़ेंगे ओवैसी, ममता को घाटा बीजेपी को फायदा
बिहार के चुनाव में मिली अच्छी खासी पांच सीट्स की जीत से उत्साहित ओवैसी ने अभी हाल ही में ऐलान किया है कि अब वो आने वाले अगले बंगाल चुनाव जो कुछ ही महीनो बाद होने जा रहे है उनमे भी लड़ेंगे और अपने दम पर लड़ेंगे. यानी पहले हैदराबाद फिर बिहार और बंगाल की तरफ ओवैसी का कूच करने का इरादा है लेकिन सवाल ये है कि इसमें बीजेपी का फायदा कैसे हो रहा है?

तो दरअसल ओवैसी का कोर वोटर कही न कही मुस्लिम वोट है जो बीजेपी को वोट काफी कम करता है और इनको हासिल करने की कोशिश दूसरी पार्टियाँ करती है. जैसे बिहार में जो मुस्लिम वोट राजद और कांग्रेस को मिल सकते थे वो ओवैसी ले गये और इससे उनकी सरकार बनते बनते शायद रह ही गयी जिससे बीजेपी को सीधे तौर पर फायदा हुआ और अब ऐसा ही कुछ बंगाल में होते हुए नजर आ सकता है क्योंकि बंगाल में भी एक अच्छा ख़ासा प्रतिशत मुस्लिम वोटरों का है जो लेफ्ट या फिर ममता को वोट करता है और अगर ओवैसी उसमे सेंध लगाते है तो ममता का वोट प्रतिशत गिर सकता है और इसका फायदा सीधे तौर पर बीजेपी को होगा.

ऐसे में कई लोग आरोप भी लगाते है कि बीजेपी अपना फायदा करने के लिए ओवैसी को हवा देती है और ये सिर्फ बीजेपी के एजेंट के रूप में काम करते है. खैर आरोप तो आरोप है लेकिन ओवैसी अपना विस्तार वाकई में कर रहे है.