सुब्रमण्यम स्वामी की मोदी को सलाह, कहा ट्रम्प के हारने के बाद उसके साथ करो ये काम

196

मोदी सरकार में सुब्रमण्यम स्वामी अक्सर ही अपने बयानों और बातो को लेकर के चर्चा में बने रहते है. उनमे से कुछ एक बाते तो लोगो को वैलिड लगती है तो कुछ को लेकर के उनके अपने ही समर्थक सवाल उठाने लग जाते है कि क्या वो जो कह रहे है या फिर कर रहे है क्या वो चीज सही है? अब आप अभी की बात ही कर लीजिये. आपको मालूम तो होगा कि अमेरिका में सत्ता परिवर्तन हो गया है और डोनाल्ड ट्रम्प अब वहाँ के राष्ट्रपति बनी रहे है.

स्वामी की मोदी को सलाह, ट्रम्प को धन्यवाद दे और भारत आने का निमंत्रण दे
स्वामी ने अभी हाल ही में ट्वीट करते हुए कहा कि डोनाल्ड ट्रम्प ने भारत के साथ में बीते चार साल में काफी अच्छी दोस्ती निभाई है और अब भारत को भी इसके लिए उनको धन्यवाद करना चाहिए. मोदी सरकार को न सिर्फ उनको धन्यवाद करना चाहिए बल्कि ट्रम्प को इस बार रिपब्लिक डे पर होने वाली परेड में अतिथि के तौर पर बुलावा भेजना चाहिए. ट्रम्प अभी दो महीने और राष्ट्रपति बने रहेंगे और इस दौरान उनको बुलाया जा सकता है.

कुछ लोगो का कहना है कि स्वामी की बात ठीक है लेकिन हो सकता है कि इससे जनवरी के बाद में जो नए राष्ट्रपति होने जा रहे है यानी जो बाईडेन उनको बुरा लग जाए क्योंकि ये दोनों वैसे ही एक दुसरे के विरोधी है और फिर आपको अगले चार साल बाईडन के साथ में ही अमेरिकी संबंधो के ऊपर काम करना है जिसकी आपको चीन के खिलाफ खड़े होने में काफी अधिक जरूरत भी पड़ने वाली है.

बाकी तो अब जो भी है आगे सरकार को निर्णय करना है कि आगे चलकर के उनको क्या करना है बाकी ऐसा लगता नही है कि स्वामी जी की ये सलाह किसी  भी तरह से मानी भी जायेगी क्योकि राष्ट्रीय हित निजी मित्रता से काफी आगे रखकर के चला जाता है.