शाह ने किया अर्नब का समर्थन तो गुस्से में आयी शिवसेना, दिया ऐसा बयान

421

अभी फ़िलहाल देश भर में अर्नब गोस्वामी लगातार चिंता का विषय बने हुए है क्योंकि जिस तरह से अचानक से उनको उनके ही घर से गिरफ्तार होना पड़ा और इसके बाद में उनके लिए समस्याएँ खड़ी होती ही चली गयी वो बताता है कि अभी उनकी सरकार से जो टक्कर है वो काफी लम्बी चलने वाली है लेकिन इस मामले में बीजेपी उनके पक्ष में खुलकर के खड़ी होते हुए नजर आ रही है और ये बात वहाँ पर सत्ता में बैठी हुई शिवसेना को तो बिलकुल भी रास नही आ रही है.

सामना में लिखा, अपने राज्यों की तरफ देखे भाजपा महाराष्ट्र में कोई आपातकाल नही
शिवसेना ने बीजेपी के नेताओं और ख़ास तौर पर शाह जैसे दिग्गजों का अर्नब गोस्वामी के समर्थन में उतरना बिलकुल भी रास नही आ रहा है और इसकी झलक साफ़ तौर पर शिवसेना के मुखपत्र सामना में नजर आ जाती है. शिवसेना ने लिखा कि ये बड़े ही आश्चर्य की बात है कि बीजेपी बीजेपी के नेताओं के साथ ही साथ में कई केन्द्रीय नेता भी आरोप लगा रहे है कि अर्नब गोस्वामी की  गिरफ़्तारी के कारण महाराष्ट्र में आपातकाल जैसी स्थिति है.

डिजायनर अन्वय नाईक मामले में अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तार किया गया है और उनको भुगतान न करने के कारण ये केस दर्ज हुआ है. फडनवीस सरकार ने अर्नब को बचाने के लिए इस केस में लीपापोती की थी गुजरात में राज्य सरकार के खिलाफ लिखने की वजह से एक पत्रकार को अरेस्ट किया गया था इन घटनाओं पर किसी को भी आपातकाल की याद नही आयी? प्रदेश के बीजेपी नेताओं को तो अन्वय नाईक को न्याय दिलाने के लिए मांग करनी चाहिए.

लोकतंत्र के कमजोर  करने का सवाल ही कहाँ है? जो लोग ये सवाल उठा रहे है वो खुद ही ऐसा कर रहे है और प्रधानमंत्री समेत सब लोग क़ानून के सामने बराबर है. ये बात जब से सामना में लिखी गयी है उसके बाद में सब लोग इसकी काफी अधिक आलोचना भी कर रहे है.