योगी ने किया जबरन धर्म बदलने के खिलाफ क़ानून लाने का ऐलान, तो ओवैसी ने कही ये बात

238

देश में अभी दो धड़े बने हुए है एक वो जो सरकार के पक्ष में है और एक वो जो विपक्ष में है. ऐसे में हर मुद्दे पर दो राय हो ही सकती है और अभी जो मामला चल  रहा है वो तो उससे भी आगे है. आपको मालूम ही होगा कि हाल ही में निकिता तोमर के साथ में क्या हुआ था? परिवार वालो के मुताबिक़ मुस्लिम युवक ने उस पर जबरदस्ती शादी करने और धर्म बदलने का दबाव बनाया था और मना करने के कारण निकिता को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा था. इसी घटना पर योगी सरकार सतर्क हो गयी है.

जबरन धर्म बदलने पर क़ानून लाएगी सरकार, ओवैसी बोले इनको संविधान नाम की चीज समझ में नही आती
योगी आदित्यनाथ ने जब ऐलान किया कि ये जो लव जेहाद के नाम पर हो रहा है और धर्म बदलवाने की कोशिशे हो रही है उनको रोकने के लिए हम क़ानून लायेंगे. बस इतना कहने की देर थी और हैदराबाद के सांसद ओवैसी आगबबूला होने लग गये और उन्होंने योगी आदित्यनाथ को कोसना शुरू कर दिया.

ओवैसी ने कहा कि बीजेपी और आरएसएस के लोग मुसलमानों के खिलाफ कुछ न कुछ करते ही रहते है. पहले तबलीगी जमात फिर यूपीएससी और अब ये. योगी आदित्यनाथ लव जिहाद की बात कर रहे है मगर इनको न तो संविधान नाम की चीज समझ में आती है और न ही इनको कुछ मालूम है उनको मालूम नही हिया कि संविधान में आर्टिकल 21 में क्या लिखा है? अगर नही पता तो किसी वकील से पढवा ले. स्पेशल मैरिज एक्ट क्या है? ज़रा पढ़िए और अपनी नाकामियों को छुपाना बंद करिए.

ओवैसी की बातो से साफ़ तौर पर नजर आ रहा है कि वो योगी आदित्यनाथ के इस ऐलान से काफी ज्यादा नाराज और कुंठित हो गये है और ऐसे में बार बार मीडिया में आकर के इस तरह की बयानबाजी करना भी आम सी बात है.