जम्मू कश्मीर को लेकर मोदी सरकार ने जारी की बड़ी अधिसूचना, नाराज हुए फारूक अब्दुल्ला

515

जम्मू कश्मीर शुरू से ही के बहुत ही बड़ा मुद्दा रहा है और कही न कही लोगो को मोदी सरकार से ये उम्मीद थी कि वो इसे सोल्व कर लेंगे और लगभग इसे सोल्व कर भी लिया गया है. कही न कही आज की डेट में मोदी सरकार बहुत ही अच्छे तरीके से यहाँ से कई स्पेशल स्टेटस को हटाने में कामयाब रही है लेकिन अभी भी कुछ एक अड़ंगे लगे हुए थे जिनको अब हटाने के लिए एक लिखित में अधिसूचना जारी कर दी गयी है जिसे अपने आप में ऐतिहासिक माना जा रहा है.

जम्मू कश्मीर में अब से खरीद सकेंगे आप जमीन, खेती वाली जमीन के लिए डोमिसाइल की जरूरत रहेगी
वैसे तो जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 और बाकी क़ानून हटा लिए गये थे जिसके बाद में ये भारत का बाकी राज्यों की तरह एक सामान्य हिस्सा और एक अभिन्न अंग बन गया लेकिन अभी भी भूस्वामित्व क़ानून को लेकर के कुछ क्लेरिटी नही थी जिसमे अब संसोधन किया गया है और इस संसोधन के बाद में यहाँ पर काफी बड़ा बदलाव आ जाएगा.

इसके बाद में भारत का कोई भी नागरिक जम्मू कश्मीर में रहने के लिए या फिर कमर्शियल परपज के लिए जमीन खरीद सकता है, वहां पर रह सकता है और खुलकर के व्यापार भी कर सकता है लेकिन खेती वाली जमीन को बचाने के लिए अभी भी थोड़े प्रतिबन्ध रखे गये है ताकि वहाँ पर रहने वाले किसानो की जमीन पर संकट पैदा न हो जाए बाकी आप चाहे तो ओअब खुलकर के वहां पर खरीदारी कर सकते है.

इस अधिसूचना के जारी होते ही महबूबा मुफ़्ती और फारूक अब्दुल्ला दोनों के ही चेहरे पर लकीरे साफतौर पर देखी जा सकती है. अब बात सिर्फ यही पर ही नही रूकती हा फारूक ने तो ये तक कह दिया कि अब कश्मीर सेल के लिए है ये बिक रहा है. ऐसे में वहाँ की जनता में गलतफहमी पैदा होती है जिसे केंद्र सरकार को रोकने की जरूरत है.