बीजेपी को धोखा देने वाले अजीत पवार की बढ़ी मुश्किलें, मुसीबत में फंस सकते है

592

अजित पवार तो आपको याद ही होंगे जिनके कारण भारतीय जनता पार्टी को किस कदर संकोच का सामना करना पड़ा था और कही न कही लोगो को भी ये बात समझ में नही आयी थी कि ये सब आखिर क्यों हुआ है? पहले उन्होंने देवेन्द्र फडनवीस की सरकार बनाई थी और फिर गिराकर के उद्धव ठाकरे की सरकार में शामिल हो गये और मंत्री भी बने. अब वही अजित पवार इन दिनों काफी दिक्कतों में फंसे हुए नजर आ रहे है क्योंकि जिस घोटाले से वो खुदको निकला हुआ पा रहे थे उसी में फिर से फंसते हुए भी दिख रहे है.

महाराष्ट्र राज्य सहकारी बैंक घोटाला मामला, अजित पवार के खिलाफ दायर होगी प्रोटेस्ट याचिका
काफी समय पहले अजित पवार और कई नेताओं का नाम को ऑपरेटिव बैंक घोटाले में लाया गया था मगर फिर मुंबई पुलिस ने उनको क्लीन चिट देदी और अब वो काफी चैन से थे लेकिन अब लग रहा है कि ये चीज यही पर ही खत्म नही हो रही है क्योंकि उनके खिलाफ सुरेन्द्र मोहन अरोरा समेत कई लोग मिलकर के एक प्रोटेस्ट याचिका मुंबई सेशन कोर्ट दायर कर दी है.

कोर्ट से अब ये मांग की जा रही है कि इसकी जांच फिर से की जाए और जाहिर तौर पर ऐसा होता है तो फिर ये जांच मुंबई पुलिस के हाथ में नही दी जायेगी क्योंकि अजित पवार की सरकार के अंडर में ही वो मुंबई पुलिस है तो या तो ये जांच खुद कोर्ट करवाएगा या फिर कोई केन्द्रीय एजेंसी करवाएगी जिसके लिए तो मोदी सरकार तैयार ही बैठी है. ऐसे में चाहे अजित पवार दोषी हो या फिर न हो लेकिन उनके लिए टेंशन और प्रेशर बढ़ने के आसार अभी से ही दिख रहे है.

हालांकि अभी तक उनकी तरफ से इस पर कुछ भी नही कहा गया है और वो इस पर कुछ कहने की बजाय संभावित तौर पर कुछ करने पर जो दे रहे होंगे क्योंकि पिछले वक्त में हम लोगो ने भी देखा है कि वो काफी मंझे हुए साबित हुए है..