अब संजय राउत ने CBI पर लगाये बड़े आरोप, कहा हमने इस वजह से CBI को रोका

67

आपको मालूम हो तो अभी हाल ही में महाराष्ट्र की सरकार ने एक काफी बड़ा फैसला लेते हुए प्रदेश में सीबीआई को बिना राज्य सरकार की अनुमति के जांच करने से पूरी तरह से रोक दिया है यानी अगर सीबीआई महाराष्ट्र में आकर के जांच करना चाहती है तो फिर उनको पहले उद्धव ठाकरे से परमिशन लेनी  पड़ेगी और अगर वो परमिशन देते है तो ही सीबीआई आगे जांच  कर सकती है. अब टीआरपी घोटाला केस में जहाँ अर्नब को फंसाने की साजिश के आरोप है उसमे जांच करने सीबीआई आती उससे पहले ऐसा फैसला ले लिया गया.

संजय राउत बोले सीबीआई करती है हमारी पुलिस के काम में हस्तक्षेप, इसलिए रोका
संजय राउत ने अभी हाल ही के अपने बयान में सीबीआई को रोके जाने को न्यायिक रूप से उचित ठहराया और कहा कि सीबीआई हमारे स्थानीय केसों में हस्तक्षेप करता है और ये राज्य के अधिकारों का साफ़ तौर पर उल्लंघन है. राष्ट्रीय मामलो पर सीबीआई को जांच का  अधिकार है लेकिन अब हमे ये फैसला लेना पड़ा क्योंकि सीबीआई हमारी पुलिस द्वारा की जा रही जांच के बीच में हस्तक्षेप करती है और उनके अधिकारों पर अतिक्रमण करती है.

महाराष्ट्र की पुलिस के पास में संविधान के द्वारा दिए गये अपने अधिकार है और अगर उनका कोई उल्लंघन करता है तो फिर हमें उसके लिए फैसले लेने ही पड़ते है. सीबीआई के गलत इस्तेमाल की बाते भी होती है इसलिए गृह मंत्री देशमुख ने जो किया सही किया है. आपको बता दे इससे अर्नब से जुड़े टीआरपी केस में सीबीआई को काम करने में काफी अडचनो का सामना करना पड सकता है.

हालांकि यहाँ पर सीबीआई के पास में ये शक्ति है कि वो कोर्ट जाए और जाकर के महाराष्ट्र में जांच करने के लिये परमिशन लेकर के आये लेकिन इसमें फिर कुछ दिन काम और डिले हो जाएगा और अगर राज्य सरकार ने बाधाएं डालने की बात तय कर ही ली है तो फिर ये सिर्फ यही पर आकार के तो रूकेगा नही.