अब शिवसेना ने अलागा नया राग, कहा बीजेपी ने नीतीश कुमार की तरह हमारे साथ भी..

275

वैसे तो भाजपा और शिवसेना दोनों ही अलग हो चुके है और दोनों के बीच में अब कुछ भी नही बचा है लेकिन इसके बाद भी कई चीजे है जो बार  बार सामने आ ही जाती है और दोहराई जाती है. आपको मालूम ही होगा कि जब बीजेपी और शिवसेना दोनों के बीच में गठबंधन टूटा था तो वजह सिर्फ एक ही थी कि मुख्यमंत्री की कुर्सी अब शिवसेना को मिले, मगर बीजेपी इस पर राजी नही हुई और सब कुछ खत्म हो गया. अब वही पुरानी बात राउत ने नए तरीके से दोहराई है.

बिहार में बीजेपी नीतीश को सीएम बनाएगी भाजपा, ये फार्मूला महाराष्ट्र में क्यों नही अपनाया
अभी हाल ही में बिहार चुनावों पर टिप्पणी करते हुए सामना में शिवसेना की तरफ से लिखा गया ‘गृह मंत्री अपने साक्षात्कार में कहते है कि बीजेपी को सीट ज्यादा मिलने पर भी सीएम नीतीश कुमार ही बनेंगे. इस फोर्मुले का उन्होंने किसी और राज्य या फिर महाराष्ट्र में प्रयोग क्यों नही किया? अमित शाह कहते है कि नीतीश कुमार पुराने और भरोसेमंद साथी है. ये तर्क संगत बात नही है क्योंकि उन्होंने एनडीए से नाता तोडा था और फिर वो वापिस आये है.’

इसके बाद में सामना में नीतीश कुमार की जमकर के आलोचना की गयी है और कहा गया है कि वो सिर्फ दिखावे का विकास करते है हैदराबाद की स्ट्रीट लाइट को मुजफ्फरपुर की स्ट्रीट लाइट बताकर के पेश किया जाता है और हकीकत में वहां पर ऐसा कुछ होता ही नही है. कही न कही इस बार शिवसेना ने अपनी सारी नाराजगी नीतीश कुमार पर निकाली है और खुलकर के इस तरह निकाली है कि अब तक मानो सारी कडवाहट जो भरी थी वो एक साथ निकल आयी है.

वही के दुसरे कॉलम में शिवसेना ने पीएम मोदी ने जो टीवी पर हाल ही में संबोधन दिया था उसकी तारीफ़ की और कहा कि उन्होंने काफी सही और तपी तुली बाते बोली है जिसकी हम लोग सराहना करते है.