सिंधिया ने पहली बार लिया सोनिया गांधी का नाम, बताया उनके साथ में क्या क्या किया

406

ज्योतिरादित्य सिंधिया अब भारतीय जनता पार्टी के काफी दिग्गज नेता बन चुके है जिनकी अच्छी खासी पहुँच है और लोग उनको खूब ज्यादा मानते भी है. कही न कही इसके पीछे उनकी गुडविल है और अब वो बीजेपी के साथ में है तो जाहिर तौर पर खुलकर के कांग्रेस के खिलाफ बोलेंगे ही बोलेंगे लेकिन ऐसा पहली बार हुआ है जब उन्होंने कांग्रेस की सबसे बड़ी नेता सोनिया गांधी पर निशाना साधा है या फिर आप कहे उन्होंने पहली बार उनका नाम लिया है जो भी अपने आप में दर्शाता है कि वो अब पूरी तरह से भाजपाई हो गये है.

कांग्रेस ने धोखा किया, ट्रांसफर उद्योग को लेकर सोनिया गांधी को लिखनी पड़ी थी चिट्ठी
अपनी सभा के दौरान सिंधिया ने कहा बचपन के दिनों में हमें सिखाया जाता था झूठ बोले कौवा काटे, अब मैं काला कोआ हूँ. अगर दिग्विजय सिंह और कमलनाथ झूठ बोलेंगे तो मैं उन्हें काटूँगा ही. कांग्रेस की सरकार में युवाओं के लिए सोचा था, महिलाओं के लिए बात थी, किसानो की बात थी लेकिन जब वादा खिलाफी हुई और उनके साथ धोखा हुआ तो मेने कांग्रेस पार्टी छोड़ दी.

आगे सोनिया गांधी का नाम लेते हुए वो कहते है कि कांग्रेस में भ्रष्टाचार और ट्रांसफर उद्योग को लेकर के एक मंत्री को सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखनी पड़ी थी. एक कांग्रेस की सरकार थी जिसने वादे नही निभाये और एक बीजेपी की सरकार है जो कमाल की सरकार है. ऐसा पहली बार हुआ है जब सोनिया गांधी को लिखी चिट्ठियों जैसे राज को भी सिंधिया खुलकर के खुले मंच से बोल रहे है वरना वो गांधी परिवार का जिक्र मुश्किल से ही करते थे.

हालांकि कमलनाथ और दिग्विजय सिंह पर तो वो पहले से ही काफी ज्यादा हमलावर है और लगातार उनको लेकर के कई सारी बाते है जो बोलते रहते है. जिस तरह से वो बयान देते है लोग भी उनको सुनना पसंद करते है.