इतने झगडे और मनमुटाव के बावजूद चिराग पासवान से मिलने पहुंचे नीतीश कुमार

202

कभी एक वक्त में एलजेपी और जेडीयू दोनों ही एक ही पाले के लोग हुआ करते थे. दोनों ने एक साथ में चुनाव लड़े और सपोर्ट करके आगे बढे लेकिन फिर कुछ सीटो को लेकर के मतभेद हुए और दोनों अलग हो गये. अब एलजेपी चिराग पासवान के नेतृत्व में अलग से चुनाव में उतर रही है और दोनों ही नेताओं के बीच में काफी ज्यादा बहस भी चली है. चिराग ने नीतीश पर काफी आरोप लगाये और नीतीश की पार्टी के लोगो ने उन पर काफी कुछ कहा मगर इसके बावजूद जब कोई चला जाता है तो मिलना होता ही है.

रामविलास पासवान के निधन पर सांत्वना देने पहुंचे नीतीश, चिराग से मिले
आपको मालूम तो होगा कि अभी हाल ही में चिराग पासवान के पिता यानी राम विलास पासवान का निधन हो गया था जो कभी एक वक्त में बिहार के सबसे बड़े नेताओं में शुमार थे. उनके जाने के बाद में उनका परिवार टूट सा गया है और उसी परिवार की तकलीफ बांटने इतने मतभेदों के बाद भी नीतीश कुमार चिराग पासवान के निवास पर गये और उनसे मिले. नीतीश कुमार ने जाकर के राम विलास पासवान के फोटो पर फूल चढ़ाए.

इसके बाद में वो चिराग पासवान से और परिवार के बाकी सदस्यों से मिले उनको सांत्वना दी और काफी देर वहां पर बैठकर के अपनी तरफ से दुःख भी व्यक्त किया क्योंकि कभी एक वक्त में तो पासवान और नीतीश कुमार एक ससाथ में ही थे अब चाहे अलग हो गये है और ऐसे में नीतीश कुमार ने उनके यहाँ पर जाकर के एक तरह से राजनीति के एक सकारात्मक पक्ष का परिचय दिया है जो दिल को खुश करने वाला है.

कही न कही ये जो कुछ भी हुआ है वो बताता है कि अब चाहे एनडीए गठबंधन की पार्टियाँ अलग हो गयी है लेकिन अब भी एक धागा है जो उनको जोड़ता है और आगे भी वो उम्मीद करते है कि इसी तरह से जोड़ता भी रहेगा.