शिवसेना को लगा झटका, अर्नब गोस्वामी ने बना लिया नया रिकॉर्ड

633

एक लम्बे समय से हमने देखा है कि अर्नब गोस्वामी अपने आपको मीडिया में सबसे टॉप पर बनाने के लिए काफी ज्यादा कोशिशे कर रहे थे मगर ऐसा हो नही पा रहा था क्योंकि एक तो पहले से इस फील्ड में काफी कम्पीटीशन था और उपर से शिवसेना के साथ में उनकी बहस के बाद में अर्नब को डर सताने लगा था कि उनका चैनल ही महाराष्ट्र में बंद करवा दिया जायेगा. इस सम्बन्ध में उन्होंने संजय राउत पर काफी गंभीर आरोप भी लगाये थे और इस मुद्दे पर काफी ज्यादा चर्चाएँ देखने में आयी थी.

अर्नब का चैनल रिपब्लिक हिंदी और इंग्लिश दोनों में बना नम्बर वन, फ़िलहाल कोई आस पास भी नही
अभी हाल ही में ब्रॉडकास्ट रिसर्च काउंसिल ऑफ इंडिया ने टीआरपी का स्केल निकाला जिसमे न्यूज़ सेक्शन में अर्नब गोस्वामी के आस पास में भी कोई नजर नही आ रहा था और ये बात आप खुद भी नोटिस कर सकते है. अगर बात करे हम रिपब्लिक इंग्लिश चैनल की तो ये 52.62 प्रतिशत शेयर के साथ में नम्बर वन पर बना हुआ है, यानी तकरीबन आधी इंग्लिश न्यूज़ देखने वाली जनता सिर्फ रिपब्लिक देख रही है.

वही दूसरी तरफ बात करे अगर हिंदी की तो हिंदी में भी उनके चैनल ने मार्केट में बढ़त बना रखी है जहाँ पर उनके चैनल रिपब्लिक भारत के पास में 19.35 मार्किट शेयर है, जबकि आज तक 14.80 प्रतिशत के साथ में दुसरे नम्बर पर है. कही न कही ये बहुत ही बड़ा अंतराल है जो नम्बर एक और नम्बर दो के बीच में बन गया है और इससे लगभग ये तय माना जा रहा है कि रिपब्लिक नेटवर्क आज की डेट में देश का सबसे बड़ा देखा जाने वाला इलेक्ट्रॉनिक मीडिया प्लेटफॉर्म बन चुका है.

ये बात शिवसेना के लिए काफी सरदर्द वाली है क्योंकि अर्नब अपने चैनल पर खड़े होकर के बार बार उद्धव ठाकरे, संजय राउत और शिवसेना पर निशाना साधते रहते है और यही नही उनके चैनल को महाराष्ट्र में बंद करवाने की कोशिश भी राउत कर चुके है मगर वो ऐसा कर नही पाये ऐसा अर्नब का आरोप है.