बिहार में इलेक्शन से पहले तेज प्रताप और तेजस्वी के खिलाफ एफआईआर

274

अब हाल ही में बिहार में चुनावी तारीखे घोषित हो गयी है और इसे लेकर के जो भी पार्टियां इस मैदान में है वो चाहे बीजेपी हो, जेडीयू हो, राजद हो, लेफ्ट हो या फिर कांग्रेस हो सब के सब अपना जार लगाकर के लगी हुई है ताकि जितनी ज्यादा सीट्स अपनी झोली में ली जा सके उतनी ले ली जाये. कही न कही ये बहुत ही बड़े स्तर का काम माना जा सकता है इस बात में कोई भी संशय नही है मगर लग रहा है कि राजद वालो के लिए चुनाव शुरू होने से पहले ही मुश्किलों का दौर शुरू हो गया है और सीधे केस का सामना इनके अपने टॉप के लीडर ही कर रहे है.

कृषि विधेयक के विरोध में किया था प्रदर्शन, दर्ज हो गया केस
अभी हाल ही में केंद्र सरकार की तरफ से किसानो के हितो को देखते हुए कृषि विधेयक सदन से पास किये थे जिसके विरोध में तेजस्वी और तेज प्रताप यादव ने अपने कई समर्थको के साथ में बिहार में धरना प्रदर्शन किया था और काफी बड़ी संख्या में लोगो को जमा किया था जिसके खिलाफ प्रशासन ने एक्शन लिया है.

दरअसल ये प्रदर्शन प्रशासन की अनुमति के बिना किया गया और ऊपर से करोना को लेकर के जो क्षेत्र प्रतिबंधित किये गये है वहाँ पर ये प्रदर्शन हुआ है जिसके चलते हुए इसे एक गंभीर गतिविधि के रूप में देखा जा रहा है और इसी के चलते हुए दोनों भाइयो समेत कुल 100 लोगो के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है और कई धाराएं लगाई गयी है. अब आगे की कार्यवाही की जा रही है जिसमे उनको पुलिस स्टेशन भी जाना पड़ सकता है.

ऐसे में राजद के लोगो का तो एक तरीके से  यही ही कहना है कि उनको परेशान करने के लिए ये सब कुछ किया जा रहा है और कही न कही अब वो इसका ठीकरा जेडीयू और बीजेपी पर फोड़ना चाह रहे है कि हमने कुछ गलती नही की है.