केजरीवाल ने फिर की मोदी सरकार की आलोचना, इस वजह से हो रखे है बुरी तरह नाराज

58

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल वैसे तो मौक़ा आने पर बीजेपी के लिए खूब मीठी मीठी बाते करते है और कोशिश करते है कि उनसे जो भी केंद्र से मदद मिल सकती है वो मदद ले लेकिन जब मौक़ा आता है तो वो मोदी सरकार को खूब खरी खोटी भी सुना देते है. ऐसे कई मौके आये है जब केजरीवाल ने ऐसा बार बार किया है और इस बार जो सदन का सत्र हुआ है उसमे बीजेपी सरकार द्वारा जो भी बिल पास किये गये उस पर नाराजगी जताते हुए केजरीवाल ने काफी बाते बताई है.

अपना सांसद निलंबित होने से नाराज केजरीवाल, कहा मनमाने ढंग से क़ानून पारित करवाते है
अगर आपको मालूम हो तो अभी हाल ही में कुछ कृषि विधेयक पारित करवाए गये थे और जब ये पारित हुए तो इस पर कई लोगो ने अपने अपने तरीके से मत भी दिये थे. मगर संजय सिंह जैसे सांसद जिन्होंने उत्पात किया उनको सदन से सस्पेंड भी किया गया. इसी बात पर अरविन्द केजरीवाल ने नाराजगी जतायी है और कहा कि संघर्ष कर रहे सांसदों को बाहर कर दिया गया है.

आगे केजरीवाल ये तक कहते है कि इतने बड़े और खतरनाक कानूनों को बिना वोटिंग करवाए ही सीधे संसद से पास करवा दिया? फिर सदन का क्या मतलब? चुनावों का क्या मतलब? अगर आपको इसी तरह से क़ानून पास करवाने है तो फिर आप संसद सत्र क्यों बुलाते हो? आगे सिसोदिया भी इसी तरह की बात करते हुए कहते है कि अंग्रेज भी इसी तरह की हुकुमत चलाते थे और गरीब किसानो मजदूरों को परेशान करते थे. आज हमारे हुक्मरान भी अंग्रेजो के ही अंदाज में सरकार चला रहे है.

जिस तरह से केजरिवाल ने इस तरह के बयान दिये है उसके बाद में फिर से बीजेपी और आप के बीच में तल्खियाँ बढ़ने के आसार है और ये साफ़ तौर पर होते हुए आने वाले वक्त में नजर भी आ रहा है. हालांकि अभी कुछ तय नही है.