उद्धव ठाकरे आदित्य ठाकरे और शरद पवार को नोटिस, बढ़ सकती है मुश्किलें

291

जब से ठाकरे परिवार सत्ता में आया है तब से ही उनकी मुसीबते कम होने का नाम नही ले रही है. आये दिन उनके लिये कुछ न कुछ प्रॉब्लम आती ही जा रही है और ये दिक्कते दिन ब दिन बढती जा रही है. आपको मालूम हो तो अभी कुछ दिन पहले की बात है जब उद्धव ठाकरे, आदित्य ठाकरे और सुप्रिया सुले पर गलत हलफनामा देने के आरोप लगे थे और फिर अब ये बात यहाँ पर तो रूकने वाली नही थी, इसी से लिंक होकर के एक और घटनाक्रम शुरू हो गया है.

उद्धव ठाकरे समेत 4 बड़े लोगो को इनकम टैक्स विभाग का नोटिस, पवार ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया
अभी जो हलफनामें में गड़बड़ी हुई थी उसके बाद में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की तरफ से उद्धव ठाकरे, आदित्य ठाकरे, सुप्रिया सुले और शरद पवार को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की तरफ से नोटिस भेजा गया है और इनसे कई मामलो में जवाब तलब किया गया है. अभी नोटिस के सम्बन्ध में बहुत ही अधिक जानकारी बाहर नही आ पायी है लेकिन शिवसेना और एनसीपी के लोगो में इस नोटिस के आने के बाद में बैचैनी साफ़ तौर पर देखी जा सकती है.

खुद शरद पवार ने इस मामले में प्रेस वार्ता की और कहा कि ये सब कुछ उनको दबाने और परेशान करने के लिए किया जा रहा है और कुछ भी नही है. जहां पर पवार ने इस पर अपनी तरफ से इसे सिर्फ और सिर्फ राजनीतिक प्रोपगेंडा बताया है वही दूसरी तरफ शिवसेना अभी इस पर कुछ भी बोलने से बच रही है. अब ऐसा क्यों है कि एक बोल रहा है और एक चुप है ये तो वो ही बता सकते है.

शरद पवार ने इसी के साथ में ये भी कहा कि देश की जनता को बहकाया जा रहा है. एक तरफ एक एक्टर के केस की जांच तीन महीने से हो रही है और दूसरी तरफ किसानो पर कोई ध्यान भी नही दे रहा है. पवार नोटिस मिलने के बाद से काफी मुश्किल में दिखे.