उद्धव और आदित्य ठाकरे को जाना पड़ सकता है जेल? सामने आया ये नया मामला

772

जब से शिवसेना सत्ता में आयी है तब से ही ठाकरे परिवार की मुसीबत कम होने का नाम ही नही ले रही है. ये दिक्कते तो दिन ब दिन मतलब बढती ही चली जा रही है और कही न कही दिक्कते तो खड़ी होती ही है जब ऐसा कुछ होता है. अभी कुछ वक्त पहले समर्थन खींच लेने का डर था, फिर सुशांत केस, इसके बाद कंगना को लेकर विवाद और अब हलफनामे को लेकर के पिता और बेटे दोनों ही घिरते हुए नजर आ रहे है और ये मामला काफी गंभीर है.

उद्धव ठाकरे, आदित्य ठाकरे और सुप्रिया सुले पर गलत हलफनामा देने का आरोप, हो सकती है कार्यवाही
अभी हाल ही में कई सारी मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, आदित्य ठाकरे और सुप्रिया सुले पर आरोप लगे है कि इन्होने जो हलफनामा दायर किया था उसमे जानकारी गलत दी है. निर्वाचन आयोग को जब इस सम्बन्ध में पता चला तो उन्होंने सीबीडीटी से इस मामले में जांच करने का निवेदन किया है ताकि सारा का सारा सच सामने आ सके और सच झूठ का सामना हो.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि यहाँ पर झूठी जानकारी देना एक अपराध की श्रेणी में आता है जिसमे जनप्रतिनिधित्व क़ानून की धारा 125ए के तहत कार्यवाही की जाती है और इसमें 6 महीने तक की जेल तक की सजा का भी प्रावधान है और इसमें ये नही देखा जाता है कि कौन कितना बड़ा व्यक्ति है. क़ानून तो अपने आप में क़ानून है. हालांकि अभी ये बाते सिर्फ और सिर्फ रिपोर्ट्स है और सच अंत में क्या निकलकर के आता है ये तो आने वाला वक्त ही बता पायेगा.

अभी इस मामले में शिवसेना की तरफ से कोई भी बात सामने नही आयी है और न ही खुलकर के कुछ भी कहा गया है. मगर उम्मीद है कि इस झूठ के आरोप को लेकर शिवसेना और ठाकरे परिवार जल्द कुछ बोलेगा.