कंगना ने छोड़ा मुंबई, जाते हुए लगाया उद्धव सरकार पर ये गंभीर आरोप

864

काफी लम्बे समय से कंगना रनाउत का नाम महाराष्ट्र की राजनीति में छा रखा है और कही न कही वो पहली ऐसी महिला रही है जिसने बहुत ही अधिक बुरे तरीके से ठाकरे परिवार को चेलेंज किया है और जिस तरह से मामला आगे बढ़ा वो तो हर किसी को हैरान करता रहा क्योंकि एक लड़की के ऑफिस को जिस तरह से गिराया गया वो लोगो को परेशान कर देने वाला था. अब इतना सब होने के बाद में कंगना ने मुंबई फिर से छोड़ दिया है और अपने शहर यानी मनाली के लिए निकल गयी है.

मनाली के लिए निकली कंगना, बोली रक्षक ही बन रहे है यहाँ भक्षक
कंगना लगभग दो से तीन दिन तक मुंबई में रही और उन्होंने जमकर के लोगो से मुकाबला किया जो भी उनके विरोध में थे. बात सिर्फ यही पर नही रुकी उनको अपना दफ्तर खोना पड़ा और तो और कंगना के खिलाफ केस भी दर्ज हुए है. इन सभी के बीच में कंगना मुंबई छोड़कर के निकली और उन्होने महाराष्ट्र की सरकार पर आरोप लगाते हुए पहले तो कहा कि वो बहुत ही ज्यादा भारी मन के साथ में मुंबई छोड़ रही है.

मैं हर समय परेशान सी थी क्योंकि मेरे ऑफिस से लेकर मेरे घर को भी तोड़ने की कोशिश की गयी, मेरे चारो तरफ इस तरह से लगी हुई सुरक्षा और ये सब कुछ एक तरह से पीओके जैसा ही था. जब ये रक्षक ही भक्षक बनकर के लोकतन्त्र का चीरहरण कर रहे है और मुझे कमजोर समझकर के मुझे डराने की भूल कर रहे है. मुझे एक महिला समझकर डराकर वो अपनी ही इमेज खराब कर रहे है.

कंगना रनाउत ने कही न कही जाते जाते उद्धव ठाकरे पर खुदको परेशान करने और कई चीजे करने के आरोप लगाये है और जिस तरह से उनके लिए मुंबई शहर में रिस्क पैदा हुए है तो सवाल यही है कि क्या वो वाकई में अब लौटकर के मुंबई आएगी या फिर नही?