शरद पवार ने शिवसेना को अकेला छोड़ा, दिया बड़ा बयान

675

शरद पवार को पिछले कुछ दिनों से लगातार कई सारे सवालों का सामना करना पड़ रहा है जहाँ पर उनसे सवाल हो रहे है कि आखिर बीएमसी ने जब इतना कुछ कर दिया तो क्या एनसीपी की इस पर कोई जिम्मेदारी नही बनती है? कही न कही वो भी तो सरकार में है और जिस तरह से वो भी ठाकरे के पार्टनर बनकर के इन दिनों चल रहे है तो कही न कही इस कार्य में उनका भी हिस्सा हो सकता है. इस पर शरद पवार ने काफी बड़ी चुप्पी तोड़ी है.

पहले बताया कंगना के खिलाफ कार्यवाही को गैर जरूरी, अब कहा इसमें सरकार का कोई लेना देना नही
शरद पवार ने पहले तो साफ़ तौर पर बयान देते हुए कहा कि कंगना के खिलाफ जो कार्यवाही हुई है वो गैर जरूरी थी इसे गैर जरूरी तरीके से पब्लिसिटी दी गयी है. यही पर साफ़ नजर आ जाता है कि शरद पवार शिवसेना के इस एक्शन से खुदको एकदम ही अलग रखने के मूड में है. बात अब यही पर ही नही रूकती है एक दिन बाद फिर से पवार का बयान आया है.

अपने आज के बयान में शरद पवार ने इस पूरे कंगना वाले मैटर से किनारा करते हुए कहा कि इसका सरकार से कोई भी लेना देना  नही है जो भी कार्यवाही हुई है वो बीएमसी के द्वारा हुई है. यानी शरद पवार साफ़ तौर पर कह रहे है कि सर्कार में हम लोग है वहाँ पर हमारा कोई लेना देना नही है और बीएमसी में जहाँ पर शिवसेना है उन्होंने ये कार्यवाही की है. इसमें सरकार को बीच में नही लाया जाना चाहिए.

जिस तरह से कंगना का घर गिराना इस गठबंधन सरकार के लिए गले की हड्डी बन गया है उसके बाद में एक बात तो तय है कि शरद पवार ही नही कुछ समय में खुद शिवसेना भी इससे पीछा छुडाने की कोशिश में लग जायेगी क्योंकि एक लड़की के सामने इतनी सब सरकारी मशीनरी लाकर के खड़ी कर दी गयी है जो उसे डेमेज किये जा रही है.