शिवसेना ने अब फिर से उड़ाया कंगना का मजाक, कह दिया इतना कुछ

453

अभी कंगना रानाउत की एक के बाद एक दिक्कतों का सामना  किये ही जा रही है और लग नही रहा है कि ये चीजे कही भी किसी भी एंगल से रूकने भी वाली है क्योंकि कही न कही जिस तरह से शिवसेना से उलझने के बाद में कंगना को मुंबई में न घुसने के लिए कहा गया, फिर उनका दफ्तर तोड़ दिया गया और अंत में अब उन पर मानहानि जैसे केस भी दर्ज किये जा रहे है. बाते साफ़ तौर पर नजर आ भी रही है और शिवसेना इससे पल्ला भी झाड रही है लेकिन सामना के जरिये वो कुछ और ही दर्शाने के प्रयास में नजर आ रही है.

शिवसेना ने सामना में लिखा ‘उखाड़ दिया’
शिवसेना का मुखपत्र सामना आता रहता है जिसका मराठी संस्करण निकलता है. उसी संस्करण में कंगना के दफ्तर पर जो बीएमसी ने कार्यवाही की है उसको कवर किया गया है और उसकी हेडलाइन लिखी गयी है उखाड़ दिया. अब आपको भी लगेगा कि ये किस टाइप की हैडलाइन तो दरअसल कंगना ने कुछ दिन पहले शिवसेना के लोगो को चुनौती देकर के कहा था कि तुम मेरा कुछ नही उखाड़ सकते हो, अगर उखाड़ सकते हो तो जो हो सकता है करके दिखाओ.

अब जब कंगना का दफ्तर टूट गया है तो ‘उखाड़ दिया’ टाइप की हेडलाइन देकर के शिवसेना ने मजाक बनाते हुए कंगना को जवाब देने की कोशिश की है कि वो चाहे तो बहुत कुछ कर सकते है. हालांकि दूसरी तरफ देखे तो सामने के परदे पर शिवसेना खुदको पाक  साफ़ बता रही है और कह रही है कि हमारा इससे कोई भी लेना देना नही है बल्कि हमने तो अपनी तरफ से विवाद भी ख़त्म कर दिया है. ये बयान खुद संजय राउत ने किया है.

यानी अब कंगना पर कही न कही शब्दों ही शब्दों में सामना पत्रिका के जरिये निशाना साधा जा रहा है और अब कंगना खुद इन चीजो का जवाब किस तरह से दे पाती है ये आने वाले वक्त में देखने वाली ही बात होगी.