उद्धव सरकार ने तुडवा दिया कंगना का ऑफिस, कंगना ने जवाब में कही ऐसी बात

497

कंगना रानाउत और उद्धव ठाकरे की सरकार के बीच में इन दिनों में काफी अधिक जोर शोर से टकराव चल रहा है. अगर आप देखे तो जिस तरह से संजय राउत और कंगना के बीच में ज़ुबानी जंग चली थी उसने तो हर किसी को हैरान कर दिया था. अब क्योंकि कंगना ने महराष्ट्र की इतनी बड़ी पार्टी जो सत्ता में भी है उससे पंगा किया था तो उसे कुछ तो हर्जाना चुकाना ही था. वही अब उनके साथ में होते हुए नजर आया. बीएमसी ने आकर के कंगना के ऑफिस को बुरी तरह से ध्वस्त ही कर दिया.

कंगना ने कहा बाबर ने मेरा मंदिर सामान ऑफिस गिराया, फिर से बनेगा
जब कंगना तक ये खबर पहुँची कि बीएमसी के अधिकारी कंगना रनौत के ऑफिस पहुंचे है जिन्होंने उनके दफ्तर को लगभग एक तरह से गिरा ही दिया है तो कंगना ने भी ट्वीट कर दिया कि इसलिए मुझे अब मुंबई पीओके जैसा लगता है. इतिहास एक बार फिर से खुदको दोहरा रहा है, पहले भी बाबर ने राम मंदिर ढहाया था और अब मेरा दफ्तर जो मेरे लिए मेरा मंदिर था उसे गिराने के लिए बाबर आया है. ये मंदिर भी फिर से जरुर बनेगा.

कंगना ने साथ ही साथ में इसे लोकतंत्र के खिलाफ बताया. यही नही यहाँ पर कंगना ये दावा भी करती है कि उनके ऑफिस में कुछ भी गलत निर्माण नही हुआ है और ये सब उनके खिलाफ बदले के कारण हो रहा है. कही न कही जो भी हुआ है उसको कवरेज हर तरफ दी जा रही है और कही न कही ये अपने आप में गंभीर मसला बन गया है क्योंकि ये एक तरह से बोम्बे हाई कोर्ट की अवहेलना भी है जिन्होंने ये सब करने से 30 सितम्बर तक रोका हुआ है.

अब आगे कंगना बोल तो काफी कुछ चुकी है लेकिन एक्शन क्या लेती है और क्या वो इतनी बड़ी पार्टी और सरकार के सामने टिक पाएगी? ये तो आने वाले वक्त में देखने वाली ही बात होगी.