शिवसेना से डायरेक्ट जा भिड़ी जेडीयू, कहा ये मुंबई किसी एक के..

334

इन दिनों शिवसेना देश भर के नेताओं और पार्टियों से आमने सामने हो रखी है और कारण इसका सब लोग जानते है. किस तरह से कंगना रानाउत से अभी हाल ही में संजय राउत की बातचीत से जुबानी जंग हुई थी जिसमे संजय राउत ने कंगना के लिए बहुत ही बुरे बुरे शब्दों का प्रयोग भी किया था. ऐसे में सिर्फ कंगना तो जवाब दे ही रही है बल्कि साथ ही साथ में और भी लोग शिवसेना को आइना दिखा रहे है जिसमे जेडीयू भी शामिल हो गयी है. हालाँकि इसकी उम्मीद उनसे कम ही थी क्योंकि उनका कोई ख़ास लेना देना नही था.

राउत ऐसे बयानो का इस्तेमाल न करे, मुंबई किसी एक की नही है
संजय राउत और बाकी शिवसेना नेताओं के कई सारे बुरे बयानों के बाद में जेडीयू की तरफ से उनके नेता संजय सिंह ने शिवसेना की इन हरकतों की घोर निंदा की है और कहा है कि संजय राउत के बयान बेहद ही आपत्तिजनक है. कंगना रानाउत एक महिला है और महिला के लिए इस तरह के बयानों का इस्तेमाल नही किया जाना चाहिए. उन्हें बोलने से पहले सोचने की जरूरत है.

वो ये भी  कहते हुए नजर आये कि ये मुंबई किसी एक के पिता की नही है. कही न कही जेडीयू ने भी कंगना के लिए खुला सपोर्ट दर्शाया है और कंगना खुद पहले ही बीजेपी की तरफ से सपोर्ट हासिल कर ही चुकी है क्योंकि जिस तरह से उनको वाय लेवल की सुरक्षा मिली है उसके बाद में किसी की ये हिम्मत पड़ना मुश्किल ही है कि वो उनको किसी भी तरह से नुकसान पहुंचाने की कोशिश भी करे. इस तरह से कंगना वो पहली बॉलीवुड स्टार बन गयी है जिनको इस स्तर की सुरक्षा मिली है.

हालांकि शिवसेना के कुछ लोग अभी भी कंगना को लेकर के गलत भाषा  का उपयोग कर रहे है क्योंकि अब उन्हें वो करने का अवसर तो नही मिलेगा जो पहले करने की बात कर रहे थे जब उन्हें लगता था कि कंगना तो अकेली ही है.