यूपी को एक बड़ी सौगात देने जा रहे पीएम मोदी, आम लोगो की चांदी ही चांदी

594

देश की सबसे बड़ी आबादी वाला राज्य होने के कारण उत्तर प्रदेश में विकास की गति भी काफी तेज गति से हो रहा है और इस कारण से सब लोग काफी अधिक प्रसन्न भी है कि एक्सप्रेस वे बन रहे है, सड़के तैयार हो रही है, पार्क, गार्डेन, बिल्डिंग्स, इंडस्ट्रीज सब कुछ तैयार हो रहा है लेकिन अभी की जो खबर है वो और भी ज्यादा प्रसन्न करने वाली है और वो ये है कि दिल्ली से सटे यूपी के इलाके में अगले कुछ सालो में बहार आने वाली है.

दिल्ली मेरठ रैपिड रेल प्रोजेक्ट जल्द होगा शुरू, ट्रांसपोर्ट और शहरीकरण होगा
केंद्र सरकार का प्लान है कि दिल्ली को आस पास के राज्यों से एक हाई स्पीड ट्रेन के माध्यम से जोड़ा जाये जो दिखने में मेट्रो जितनी ही उन्नत हो और जिसकी गति 150 किलोमीटर प्रति घंटा तक की हो. अब इसी का पहला चरण लगभग शुरू हो चूका है जिसके लिए एक बैंक से एक बिलियन डॉलर का लोन उठाया गया है वही लगभग दो बिलियन डॉलर केंद्र सरकार भी खर्च कर रही है.

अभी जो पहली हाई स्पीड ट्रेन चलाने की बात हो रही है वो राजधानी दिल्ली से शुरू होगी, नॉएडा के करीब से होते हुए गाजियाबाद को जायेगी और फिर छोटे मोटे कई सारे स्टेशन को कवर करते हुए यूपी के अन्दर मेरठ तक जायेगी. इससे होगा क्या? सबसे पहला तो ये है कि इस प्रोजेक्ट में कई लाखो लोगो को नौकरियां मिलने वाली है जिसमे यूपी के लोग ज्यादातर नौकरी हासिल करेंगे. दूसरा ये कि अगर कोई उत्तर प्रदेश के मेरठ के आस पास के गाँव आदि में रहता तो वो राजधानी दिल्ली या नॉएडा जैसे शहरो से अप डाउन करके नौकरी कर सकेगा.

अगर आधुनिक ट्रांसपोर्ट इतनी दूर तक चला गया है तो इंडस्ट्री का फैलाव भी काफी अधिक होगा और माना जा रहा हिया कि धीरे धीरे करके जो दिल्ली एनसीआर गाजियाबाद तक फैला है वैसा ही विकास इस हिसाब से मेरठ तक भी हो ही जाएगा. वही दूसरी तरफ जेवर एयरपोर्ट जो भी इसी इलाके में बन रहा है वो इसमें चार चाँद लगा देगा, तो नौकरियां, इन्फ्रास्ट्रक्चर, पैसा और जमीनो के भाव सब आसमान पर जाने वाले है.