आखिरकार पीएम मोदी ने केजरीवाल की मांग मान ही ली

134

वैसे तो मोदी और केजरीवाल के बीच में हर समय छत्तीस का आंकड़ा रहता है. ये बात आप भी काफी अच्छे तरीके से जानते ही होंगे कि चाहे कुछ भी कितना भी अलग हो और तनाव हो लेकिन मोदी जी कभी भी जनता के फायदा के लिए कुछ भी गलत नही होने देते है और न ही उसके विरोध में कोई फैसला लेते है. अब सीएम केजरीवाल ने एक लम्बे वक्त से मांग की हुई थी कि अब दिल्ली में करोना कंट्रोल में है तो कम से कम अब तो मेट्रो चलाने की परमिशन मिलनी ही चाहिए.

मोदी सरकार ने दी इजाजत, 7 सितम्बर से चलने लगेगी मेट्रो
अरविन्द केजरीवाल की मांग पर गौर करते हुए मोदी सरकार ने अभी के लिए इजाजत दे दी है कि हाँ दिल्ली में अब मेट्रो चल सकती है और ये मेट्रो प्रारम्भ राजधानी में 7 सितम्बर से होगी. मगर अब परमिशन मिल गयी है तो इसका मतलब ये भी नही है कि पहले की तरह सब कुछ हो जाएगा. अभी फ़िलहाल के लिए कुछ निर्धारित निकासी और प्रवेश गेट खोलने की इजाजत ही मिलेगी जिससे कि अधिक भीड़ और हड़बड़ी पैदा न हो.

इसके लिए दिल्ली मेट्रो में थर्मल स्क्रीनिंग गेट पर ही हो जायेगी. यात्रियों को मास्क पहनना होगा और आरोग्य सेतु एप्प भी डाउनलोड करके रखना होगा. इसके अलावा यात्रियों को एक दुसरे के बीच में कुछ एक फीट की दूरी भी बनाकर के रखना अनिवार्य होगा. कही न कही कुछ एक बंदिशे तो होती ही है जो जाहिर तौर पर बनी रहने वाली है और ये दिक्कत भी आगे चलकर के देगी क्योंकि भीड़ काफी ज्यादा है जो कण्ट्रोल तरीके से हेंडल कर पाना संभव नही है.

ऐसे में अब दिल्ली सरकार और डीएमआरसी ने परमिशन तो ले ली है कि दिल्ली में मेट्रो चलाएंगे लेकिन करोना को इसके जरिये फैलने से किस तरह से रोका जा सकेगा ये आने वाले वक्त में देखने वाली ही बात होगी क्योंकि ये पहली की तरह सामान्य समय तो नही है.