गांधी परिवार से नाराज गुलाम नबी आजाद ने कहा, अगर छः महीने के अन्दर अन्दर..

411

इन दिनों कांग्रेस पार्टी का भाजपा से आंकड़ा भिडंत में कम नजर आ रहा है क्योंकि कही न कही कांग्रेस पार्टी अपने में ही उलझ कर के ही रह गयी है और उनको कोई ख़ास उपाय इस पर नजर आ नही रहा है. आपको मालूम हो तो सारा का सारा तनाव अध्यक्ष पद को लेकर के है और कही न कही सिर्फ गुलाम ही नही बल्कि अधिकतर वरिष्ठ कांग्रेस नेता अपने फेवर का अध्यक्ष चाह रहे है और अब इस मामले पर गुलाम नबी आजाद ने अपनी तरफ से खुलकर के मोर्चा खोल दिया है.

गुलाम नबी आजाद का बयान, पूर्ण कालिक अध्यक्ष के लिए सिर्फ छः महीने करेंगे इन्तजार
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद की अभी गांधी परिवार से जो खट पट चल रही है वो किसी से छुपी हुई नही है और अब ये एक अलग ही लेवल पर चली गयी है. गुलाम का कहना है कि जब तक एक पूर्णकालिक अध्यक्ष की नियुक्ति नही हो जाती है तब तक वो छः महीने के लिए इन्तजार करने के लिए तैयार है. अगर इसके लिए कोई समिति बनती है तो वो उसके सदस्य बनने के लिए भी तैयार है.

इसी के साथ में वो ये भी स्पष्ट करते है कि वो खुदको इसका उम्मीदवार नही मानते है और चाहे राहुल गांधी अध्यक्ष पद को संभाले लेकिन जो भी बने वो पूर्ण कालिक अध्यक्ष बने यानी कल को हमें छः महीने बाद ये न हो कि बार बार फिर से अपने अध्यक्ष पद को बदलना पड़े. अगर देखा जाए तो अध्यक्ष पद इन दिनों गांधी परिवार की फुटबॉल ही बन गया है. कभी किसी तरफ जा रहा है तो कभी किसी और की तरफ मगर कोई भी इसे परमानेंट नही रख रहा है और गुलाम का कहना है कि वो छः महीने के भीतर ये फिक्स करे वरना वो आगे फिर कुछ करेंगे.

अब गुलाम नबी आजाद का ऐसा क्या करने का इरादा है और क्या वो वाकई में अपने आपको सही से पार्टी में गांधी परिवार के खिलाफ में प्रेजेंट कर पाने में कामयाब होंगे? ये तो वक्त ही बतायेगा.