चीन को झटके पे झटके, मोदी सरकार ने लिया बड़ा फैसला

171

पिछले कुछ वक्त से लगातार ये भारत और चीन के बीच में जो तनातनी चल रही है वो जगजाहिर है और कही न कही चीन ने अपने आपको जो सुपीरियर बनाने बनाने की कोशिश कर रहा था उसमे भारत ने उसे नाकाम कर दिया है और अब भारत कोशिश कर रहा है कि जिस भी मोर्चे पर चीन को मुश्किल में डाला जा सके वहाँ पर काम किया जाने की जरूरत है. अब हाल ही की बात ही कर लीजिये. मोदी सरकार ने काफी बड़े फैसले लिए है जो अपने आप में बहुत ही ज्यादा प्रभावी है.

मेक इन इंडिया प्रोग्राम हो रहा सफल, वन्दे भारत के ठेके भी रद्द किये
भारत की सबसे एडवांस ट्रेन फ़िलहाल वन्देभारत एक्सप्रेस है जिसकी 44 ट्रेने और लांच होने वाली है. इस ट्रेनों के कई उपकरणों आदि की सप्लाई का काम चीनी कम्पनियों को दिया गया था लेकिन अब ये सारे के सारे ठेके रद्द कर दिये गये है, इससे चीन को कई हजार करोड़ रूपये का नुकसान होने का अंदेशा बताया जा रहा है क्योंकि किसी को भी ये उम्मीद न थी कि इतने बड़े लेवल पर चीन के कॉन्ट्रैक्ट रद्द हो जायेंगे.

वही दूसरी तरफ भारत अब धीरे धीरे स्मार्टफोन मेनुफक्चारिंग में आगे बढ़ते चले जा रहा है और चीन से कई कम्पनियो को अपनी तरफ खींच रहा है. आज आईफोन भारत में बन रहे है और सेमसंग ने तो अपनी सबसे बड़ी फैक्ट्री हिन्दुस्तान में लगा रखी है और लगभग दो दर्जन कम्पनियां भारत में फोन उत्पादन करने में इच्छुक है. ये सारी की सारी चीन को चोट हो रही है और इस पर वो कुछ भी कर नही पा रहा है क्योंकि उसके बस में अभी कुछ भी नही है.

ऐसे में भारत ने चीन को काफी जोरदार झटका दिया है और अब चीन आगे चलकर के क्या रिप्लाई करता है ये तो देखने वाली ही बात होगी क्योंकि आने वाला वक्त काफी ज्यादा खींचतान वाला हो सकता है ऐसा माना जा रहा है.