पीएम मोदी का बड़ा बयान, कहा भारत को महाशक्ति बनाना है तो ये काम जरूरी

251

प्रधानमंत्री मोदी और उनकी सरकार लगातार कही न कही डटे हुए है और पिछले छः सालो से प्रयास कर रहे है कि भारत की स्थिति वैश्विक स्तर पर बढ़िया की जाए और कही न कही एक सुपर पॉवर बनने का सपना तो हर कोई देखता ही है. इस सम्बन्ध में देश में कई आर्थिक सुधार किये गये है, सैन्य शक्ति को भी बढ़ाया गया है लेकिन एक बड़ा और मूल बदलाव हाल ही में लाया गया है जो काफी ज्यादा चर्चा में है और वो है भारत की नयी शिक्षा नीति. इसे लेकर के पीएम मोदी काफी अधिक एम्बिशन्स पाले हुए है.

नयी शिक्षा नीति पर हुए सम्मेल्लन में बोले पीएम, एनईपी बनाएगी भारत को महाशक्ति
आपको मालूम होगा कि भारत सरकार ने पुराने अंग्रेजो के जमाने के शिक्षा तन्त्र को खत्म करते हुए भारत के लिए नयी शिक्षा नीति को लागू किया है जिसमे सिर्फ और सिर्फ बच्चो को को एक स्किल्ड, टेलेंटेड और बेहतरीन इन्सान बनाने पर ध्यान दिया जायेगा. इसी को लेकर के सम्मलेन का आयोजन हुआ है और इसमें प्रधानमंत्री मोदी काफी कुछ बोले है.

पीएम मोदी ने कहा कि इसकी जानकारी जितनी जल्दी स्पष्ट होगी उतना जल्दी इसे लागू करना आसान होगा. इसे हम मिलकर के लागू करेंगे और मैं इसके लिए प्रतिबद्ध हूँ. ये न्यू इंडिया की नींव है, भारत के युवाओं को कौशल प्रदान करने का काम करेगा. इसमें भारत को महाशक्ति बनाने की तरफ ध्यान दिया गया है. वर्षो से हमारे शिक्षा के क्षेत्र में कोई बदलाव नही हुए थे सिर्फ भेडचाल वाला काम चल रहा था.मगर अब वो समय आ गया है जब हर विद्यार्थी अपने पैशन को फोलो करे. वो अपनी सुविधा के अनुसार अपनी डिग्री कर सके और या मन करने पर उसे छोड़ भी सके.

हम छात्रो को वैश्विक नागरिक भी बनायेंगे और मातृभाषा को भी प्रमोट करेंगे. पीएम का मानना है कि शिक्षा में मूल बदलाव किये बिना एक ऐसी पीढ़ी तैयार कर पाना मुश्किल है जो दुनिया के बड़े बड़े देशो से आगे निकल सके.