राम मंदिर के बाद इस बड़े मुद्दे पर भी जल्द फैसला ले सकती है मोदी सरकार

1303

जब से मोदी सरकार आयी है तब से वो जनता की इच्छा के अनुकूल कई सारे ऐसे फैसले ले रही है जो सीधे तौर पर उनके मुद्दे भी थे. चाहे वो अनुच्छेद 370 हटाना हो, राम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू करवाना हो या फिर तीन तलाक जैसे बड़े फैसले हो. हर फैसले ने लोगो को काफी उत्साहित किया और प्रसन्नता व्यक्त की. मगर अभी ये कारवां रूका नही है क्योंकि अभी के सूत्र बताते है कि एक और बड़े मुद्दे पर तो काम किया जाना अभी भी बाकी ही है और वो जल्द होने जा रहा है.

यूनिफार्म सिविल कोड पर चर्चा तेज, कभी भी आ सकता है बिल
भारतीय जनता पार्टी का सबसे बड़ा मोटिव एक देश एक विधान और एक संविधान का रहा है और इसमें भारत के ही कई नियम कायदे और क़ानून बाधक बने हुए है जिससे कि मुस्लिमो को, कई क्षेत्रो को या कई धर्मो को बेमतलब के अधिक  अधिकार दिये गये है और कई जगहों पर वो चीजे गलत उपयोग में लाई जा रही है. ऐसे में हर नागरिक को देश में समान दर्जा दिया जाना बेहद जरूरी है और इसका उपचार सामान नागरिक सहिंता को माना जाता है.

हालांकि साथ ही साथ में ये भी ध्यान में रखा जायेगा कि माहिलाये या फिर कमजोर तबके कही इससे बुरी तरह प्रभावित न हो और इसी का ध्यान रखते हुए फैमिली लॉ से लेकर कई चीजो में सबको एक समान मापक स्तर पर लाया जाएगा और हर देश के नागरिक पर लगभग लगभग एक सा क़ानून लागू होगा. सुप्रीम कोर्ट की बात करे तो वो तो खुद कई बार इसकी वकालत कर चुका है क्योंकि इससे बाद में न्याय देने में भी काफी अधिक आसानी रहेगी.

हाँ इसका कई लोग और कई समूह विरोध भी कर रहे है क्योंकि अगर ऐसा हो जाता है तो फिर जो कुछ एक लोग धर्म, जगह, जाति या क्षेत्र आदि की आड़ में अपने गलत फायदे उठा रहे है और दूसरो के हक़ का उठा रहे है उन पर लगाम जो लग जायेगी.