राम जन्मभूमि पूजन में निमंत्रित नही किये थे आडवाणी, घर से बैठे बैठे जारी किया बड़ा बयान

2208

लगभग 500 वर्षो के एक लम्बे इन्तजार के बाद में अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू हो गया है. खुद पीएम मोदी इस समारोह में गये थे और उन्होंने अपने हाथो से भूमि पूजन के कार्य को संपन्न भी किया जो बताता है कि ये चीज उनके ह्रदय के कितनी अधिक समीप रही होगी. अब कई लोग सवाल कर रहे थे कि आखिर लाल कृष्ण आडवाणी जी को इसमें क्यों आमंत्रित नही किया गया? तो इसमें कई कारण थे. आडवाणी जी की उम्र काफी अधिक है, करोना दिक्कते है और ऐसे में उनकी जान को रिस्क पर लेकर ऐसा करना ठीक न था. बाकी बातो का जवाब उन्होंने खुद दे दिया है.

पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा राम जन्मभूमि का पूजन ऐतिहासिक क्षण है
लाल कृष्ण आडवाणी जी ने एक विडियो सन्देश सब देश के लोगो के लिए जारी किया है जो लोग कही न कही आडवानी जी को इस अवसर पर सुनना चाह रहे थे. वो कहते है कि कुछ एक सपने होते है जो जीवन में पूरा होने में बहुत ही अधिक समय लेते है. एक मेरा भी ऐसा ही ह्रदय के करीब सपना था जो अब पूरा हो रहा है.

अयोध्या में राम मंदिर का प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा भूमि पूजन सभी भारत के लोगो के लिए ऐतिहासिक और भाव से भरा हुआ क्षण है. ये मंदिर का निर्माण भारतीय जनता पार्टी का सपना और मिशन दोनों रहा है, नियति ने मुझे इस आन्दोलन के दौरान राम रथ का दायित्व प्रदान किया जिसमे असंख्य लोगो की अभिलाषा और आकांक्षा को जोड़ा. मैं उन सब लोगो के प्रति अपनी कृतज्ञता व्यक्त करता हूँ जिन्होंने इसमें अपना मूल्यवान योगदान दिया है.

आडवाणी जी ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिये गये इस निर्णय की भी खूब जमकर के तारीफ़ की और और कहा उनके निर्णय के कारण ही ये संभव हो पा रहा है. आडवाणी जी को इस बात से कोई दिक्कत नही है कि किसे बुलाया जाता है या किसे नही. बस सपना पूरा होना चाहिए.