चीन का दम निकालने के लिये मोदी सरकार ने चला अपना सबसे बड़ा मास्टरस्ट्रोक

690

भारत अब एशिया में अपना दम ख़म लगा रहा है और लगातार चीन को चुनौती देने की कोशिश कर रहा है. वही चीन को देखे तो वो काफी टेंशन में है क्योंकि कई मायनों में भारत के पास में चीन की तुलना में एडवांटेज है और अगर उनका आर्थिक क्षेत्र में सही फायदा मिल गया तो हिन्दुस्तान को काफी फायदा हो सकता है और यही चीज अब भारत स्मार्टफोन के क्षेत्र में करने जा रहा है जो सीधे तौर पर आम लोगो को फायदा देने वाला साबित होने जा रहा है और इस पर काम शुरू हो गया है.

मोदी सरकार ने निकाली प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव स्कीम, 22 कम्पनियों ने किया आवेदन
आपको ये तो जानकारी होगी ही होगी कि आज स्मार्टफोन का बिजनेस दुनिया का सबसे बड़ा बिजनेस बन चुका है इसलिए ही तो एप्पल आज दुनिया की नम्बर वन वैल्यूएशन वाली कम्पनी बन गयी है. भारत में इससे जुडा इको सिस्टम खड़ा करने के लिए मोदी सरकार ने प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव स्कीम निकाली है जो लगभग 50 हजार करोड़ रूपये की है. इसके जरिये भारत में स्मार्टफोन के पार्ट्स बनाने वाली कम्पनियों को कई सारे फायदे दिये जायेंगे और उनकी मदद भी होगी.

अब मोदी सरकार का ये सिक्का सही जगह चल गया है क्योंकि अब तक सरकार के पास में कुल 22 कम्पनियों के आवेदन आ चुके है जो वर्ल्ड क्लास लेवल के स्मार्टफोन पार्ट्स बनाने की बात कर रही है और ये क्वालिटी से लेकर कीमत के मामले में भी चीन को टक्कर देने वाले रहेंगे. इसे एक शुरुआत या फिर कहे अच्छी शुरुआत माना जा सकता है. इसमें कई विदेशो की भी बड़ी बड़ी कम्पनियां है जो ये काम करने वाली है और ये चीन को झटका देने वाला स्टेप कहा जा सकता है.

ऐसा इसलिए भी है क्योंकि चीन के अरबो डॉलर का व्यापार सिर्फ इसी से होता है और अब भारत उसके हाथ से धीरे धीरे छीनने में लग गया है और काफी हद तक इसमें कामयाबी मिलते हुए नजर आ रही है इसमें कोई शक वाली बात नही है.