उत्तर प्रदेश के जाने माने और प्रमुख नेता का निधन, दुःख का माहौल पसरा

707

राजनीतिक जगत से जुड़े हुए कई ऐसे सीनियर लोग है जिनको हमने इन दिनों में खो दिया है. जेटली जी से लेकर सुषमा स्वराज और कई नेता है जो जाते जाते लोगो की आँखों में आंसू भर गये. अभी तो ये दौर मानो रूकने का नाम ही नही ले रहा है क्योंकि हाल ही में हमने एक ऐसे ही नेता को और खो दिया है जिसके नाम से कभी पूरे उत्तर प्रदेश की राजनीति चला करती थी और वो अपने आप में अपना एक अलग ही लेवल का जलवा बरकरार रखे हुए थे.

राज्यसभा सांसद अमर सिंह का निधन, सिंगापुर में चल रहा था इलाज
समाजवादी पार्टी के नेता रहे और यूपी में काफी गजब लेवल का स्तर बना चुके नेता अमर सिंह का निधन हो गया है. उनकी तबीयत पिछले कुछ समय से बड़ी ही खराब चल रही थी और हालत बड़ी ही नाजुक थी जिसके चलते वो लगभग छः महीने से सिंगापुर में एक अस्पताल में भर्ती थे लेकिन दुर्भाग्य से उनको बचाया न जा सका. अमर सिंह के जाने के बाद में ट्विटर पर श्रद्धांजली का दौर शुरू है. बड़े बड़े नेता आदि उनको श्रद्धांजली अर्पित कर रहे है.

वही अमर सिंह की बात करे तो आजमगढ से आते थे और अभी उनकी उम्र 65 के करीब थी. पढ़ाई के बाद में वो लेखन में भी काफी अच्छे रहे लेकिन राजनीति में जब उन्होंने कदम रखा तो मानो छप्पर ही फाड़ दिये. अमर सिंह विधायक से लेजर मंत्री और केबिनेट तक भी गये. वो सपा के संरक्षक मुलायम सिंह के सबसे करीबी रहे और अंत के समय में वो बतौर राज्य सभा सांसद भी काम कर रहे थे. एक वो वक्त हुआ करता था जब अमर सिंह के नाम का डंका बजा करता था लेकिन फिर वक्त के आगे तो हर कोई मजबूर हो ही जाता था.

अमर सिंह के जीवन के अंतिम दिन काफी अधिक तकलीफ से भरे हुए रहे जिसके कारण कही न कही लोग उनके प्रति सहानुभूति भी रखने लगे थे. अमर सिंह में बच्चन साहब से अपनी बातो के लिए माफ़ी भी मांगी थी.