जब 1991 में अयोध्या आये थे मोदी, तब मंदिर निर्माण को लेकर कही थी ये बात

355

एक लम्बे इन्तजार के बाद में सारे देश भर के लोगो का सपना पूरा हो रहा है और आखिरकार सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद में मंदिर निर्माण की प्रक्रिया शुरू होने जा रही है. पांच अगस्त को खुद प्रधानमंत्री मोदी अयोध्या जायेंगे और जाकर के मंदिर का भूमि पूजन करके पहली ईंट वहाँ पर रखेंगे जो कि चांदी से बनी हुई है. मगर हम आपको इसी से जुड़ा एक दिलचस्प किस्सा बताते है जो आज से लगभग तीन दशक पहले हुआ था और आज भी लोगो की यादो में ताजा हो रखा है.

फोटोग्राफर से बोले थे मोदी, जब मंदिर निर्माण होगा तब मैं वापिस आऊंगा
एक जाने माने अयोध्या के ही फोटोग्राफर है जिनका नाम है महेंद्र त्रिपाठी. वो बताते है कि जोशी जी ने उस वक्त हम सबसे मोदी जी का परिचय करवाया था और बताया था कि ये गुजरात के नेता है. त्रिपाठी उनके बीच की बातचीत का जिक्र करते हुए कहते है कि जब हमने मोदी जी से पूछा था कि वो वापिस अयोध्या कब आयेंगे? तो मोदी जी ने जवाब देते हुए कहा जब राम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू होगा तब आयेंगे.

अब इसे संयोग कहे या फिर भाग्य कहे मगर जो है सच है कि अब इतने साल बाद मंदिर निर्माण के समय न सिर्फ पीएम मोदी वापिस अयोध्या लौट रहे है बल्कि साथ ही साथ में वो उसका भूमि पूजन भी अपने हाथो से करेंगे. 29 साल पहले भला किसने सोचा होगा कि ऐसा कुछ भी होगा? मगर त्रिपाठी जी की यादो में ये सब की सब बाते छपी हुई है और इस वजह से ही तो वो ये सब बता भी पा रहे है जो कही न कही दिल को छू जाती है.

खैर अब मंदिर निर्माण के लिए से लेकर संघ और बीजेपी के कई मुद्दों और आंदोलनों में पीएम मोदी ने जवानी के वक्त में जो भी भूमिका निभाई थी उसे कोई भी नकार नही सकता है और कही न कही आज वो इस मुकाम पर अपनी मेहनत से है.