सचिन पायलट को हटाने की वजह से कांग्रेस पार्टी पर आयी बहुत बड़ी मुसीबत

1093

अब सचिन पायलट कांग्रेस पार्टी जिस स्थिति में फंस गये है कही न कही वो बता रहा है कि हालात बड़े ही बुरे हो रखे है. सचिन पार्टी में उस पॉइंट पर जाकर के फंस गये है जहाँ पर से वो लौटकर के वापिस आ नही सकते है और अशोक गहलोत कभी भी उनको वापिस आने नही देंगे और ये बात हर कोई जानता है. ऐसी स्थिति में कोई क्या करे? बात अपने आप में सही भी है सचिन काफी बेकफुट पर धकेले जा रहे है लेकिन लग रहा है कि सचिन की मदद को अब उनका अपना समाज आगे आ रहा है.

तीन राज्यों के गुर्जर करेंगे महासभा, सचिन पायलट का उठेगा मुद्दा
अभी जिस तरह की मीडिया रिपोर्ट्स आ रही है उसके अनुसार तीन राज्य राजस्थान, हरियाणा और यूपी समेत और भी कई राज्यों के गुर्जर समाज के लोग महापंचायत बुलाने जा रहे है और ये सब गुरुग्राम के पास होगा ऐसी खबर है. सचिन पायलट गुर्जर से आते है और इस जाति का कई राज्यों में बहुत ही भारी दबदबा है और अच्छा खासा वोट प्रतिशत भी है जो कि किसी भी पार्टी से छुपी हुई बात नही है.

अब ऐसे में अगर ये महापंचायते सचिन पायलट के पक्ष में हो रही है तो इतना साफ़ है कि ये कांग्रेस पार्टी द्वारा लिए गये एक्शनो का विरोध करेगी और ऐसे में उनको आने वाले चाहे राज्य स्तर के चुनाव हो या फिर केंद्र स्तर के चुनाव हो वहां पर गुर्जर वोट बैंक से हाथ धोना पड सकता है क्योंकि पायलट उनके समाज के सबसे बड़े और सम्मानित नेताओं में से एक है और अगर उनके साथ में ऐसा कुछ हो रहा है तो ये लोग भी कुछ न कुछ प्रतिक्रिया भी देंगे ही देंगे.

अब इसके परिणाम अंत में क्या निकलते है और कांग्रेस इस पर अपनी तरफ से क्या प्रतिक्रिया देती है ये आने वाले समय में देखने वाली ही बात होगी. मगर इतना साफ़ है कि पायलट को इससे काफी सपोर्ट मिलेगा.