उपमुख्यमंत्री पद से हटाने की वजह से नही इस वजह से कांग्रेस से ज्यादा नाराज है सचिन पायलट

499

अभी हाल ही में सचिन पायलट के खिलाफ कांग्रेस पार्टी ने काफी बड़ी कार्यवाही की है और ये कार्यवाही अपने आप में सब लोगो को हैरान कर रही है क्योंकि इसके बाद में पायलट का कद काफी  ज्यादा छोटा हो गया है और उनकी राजनीतिक जमीन भी खिसकते हुए नजर आ रही है. मगर क्या आप ये बात जानते है कि सचिन पायलट इस वजह से नही बल्कि किसी और वजह से ज्यादा नाराज हो रखे है और यही उनके और कांग्रेस के बीच में बातचीत में सबसे बड़ा रोड़ा भी बन रहा है.

पायलट को राजद्रोह का नोटिस मिलने से परेशानी, बोले आत्मसम्मान को पहुंची ठेस
सचिन पायलट ने हाल ही में मीडिया से बात की और कहा कि मैं अशोक गहलोत से तो नाराज ही नही हूँ और न ही मेने कोई विशेष सुविधा की मांग की है. मैं बस ये मांग कर रहा हूँ कि सरकार ने जो वादे जनता से किये थे वो पूरे किये जाये. मेने गहलोत से बात भी लेकिन जब बैठक ही नही होती थी तो फिर बातचीत करने की जगह तक नही बची.

फिर सचिन असली बात पर आते है और कहते है कि मुझे राज्य की पुलिस के द्वारा राजद्रोह का नोटिस थमा दिया गया जिससे मेरे आत्मसम्मान को ठेस पहुंची है. एक तरफ तो गहलोत पूर्व मुख्यमंत्री की मदद किये जा रहे है और ऊपर से मुझे और मेरे समर्थक लोगो को भी राजस्थान में काम नही करने दिया जा रहा है. पायलट कहते है कि मेने तो खुद कांग्रेस को जिताने के लिए जी तोड़ मेहनत की थी काम किया था तो मैं अब उसके खिलाफ काम क्यों करूंगा? इन बातो में कोई भी सच्चाई नही है.

सचिन पायलट ने बस इतना कहा है कि उनको ठेस पहुंची है तो वो इस  बात से कि उनके खिलाफ ये राजद्रोह जैसे मुकदमे दायर कर दिये गये. अब वो माने या फिर न माने लेकिन इन चीजो के बाद में उनकी अशोक गहलोत के ससाथ में तो कभी भी नही बन सकेगी.