सचिन पायलट के बीजेपी में संपर्क होने की आशंका के बीच सिंधिया ने दे दिया बड़ा बयान

683

राजस्थान कांग्रेस में हाल इन दिनों बड़े ही बुरे से भी बुरे चल रहे है क्योंकि जिस तरह से लम्बे वक्त के मनमुटाव के बाद में सचिन पायलट ने अपना हक़ मांगने का फैसला किया है उसके बाद में अशोक गहलोत के साथ में तो बड़ी ही दिक्कत खड़ी हो गयी है क्योंकि एक तो उनकी अपनी ही पार्टी से है और ऊपर से उपमुख्यमंत्री भी बने हुए है. ऐसे में कोई करे तो करे क्या? सचिन पायलट के बीजेपी से संपर्क में होने की खबरे भी आ रही है और इसी बीच अब ज्योतिरादित्य सिंधिया का बयान भी काफी कुछ कह दे रहा है.

मेरे साथी सचिन पायलट को साइड लाइन किया जा रहा है
अभी हाल ही में भारतीय जनता पार्टी का हिस्सा बने और राज्यसभा के सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी तरफ से ट्वीट करते हुए कहा कि मेरे साथी सचिन पायलट को भी इसी तरह से से साइडलाइन किया जा रहा है और वो भी सीएम अशोक गहलोत के द्वारा. ये दिखाता है कि कांग्रेस में काबिलियत और टेलेंट की कितनी कम वैल्यू की जाती है.

सचिन पायलट को लेकर के ज्योतिरादित्य सिंधिया का ये बयान देना काफी कुछ बताता है और इसके बाद में इतना तो साफ़ हो जाता है कि एक तरह से अप्रतयक्ष ही सही लेकिन सलाह है कि पायलट अब इस पार्टी से उम्मीद न रखे और कोई और रास्ता पकडे. हालांकि सचिन वाकई में क्या चाह रहे है? क्या वो कोई बड़ा फैसला कर पाएंगे? ये तो आने वाले वक्त में पता चल ही जायेगा क्योंकि वो भी अब अपने गुट के विधायको के साथ में अलग होकर के बैठ गये है और अपना अलग व्यूह रच रहे है.

हालांकि इस मामले में अशोक गहलोत भी चुप नही बैठे है और वो लगातार अधिक से अधिक विधायको को अपने पक्ष में करने में लगे हुए है ताकि सरकार को बचाया जा सके. अगर अल्पमत में जाती है तो कांग्रेस अपना एक और राज्य बिना बात के खो देगी.