अब भारत की राह पर चलेगा अमेरिका, चीन पर लेने जा रहा है ये बड़ा फैसला

73

भारत ने आज की डेट में सारी की सारी दुनिया के सामने एक तरह की मिसाल कायम की है. जिस चीन से एशिया से लेकर यूरोप के रीजन में भी कई सारे देश डरते थे उस चीन को सीमा पर ही रोक दिया गया और रोकने के बाद में चीन पर एक तरह से आर्थिक रूप से दबाव बनाया गया. कई चीनी कम्पनियों को भारत के कॉन्ट्रैक्ट्स से बाहर किया गया और तो और कई मायनों में चीन के साथ में एक तरह ऐसा व्यवहार हुआ है कि उनकी करीब 59 एप्प को बैन कर दिया गया जिसमे टिक टॉक भी शामिल है.

अमेरिका के विदेश मंत्री पोम्पियो का बयान, हम टिक टॉक जैसी एप्प्स को बंद करने पर विचार कर रहे है
अमेरिका के विदेश मंत्री माईक पोम्पियो ने हाल ही में अपने बयान में कहा है कि डाटा प्राइवेसी जैसे मसलो को देखते हुए अमेरिका चीन के टिक टॉक जैसे एप्स पर प्रतिबन्ध लगाने पर विचार कर रहा है, ये जल्द ही हो भी सकता है. बस इस पर अभी विचार चल रहा है और चीजे प्रोसेस में है, यानी कभी भी चीनी कम्पनियों पर अमेरिका भी भारत की ही तरह गाज गिरा सकता है.

आपको बता दे महज कुछ दिन पहले की ही बात है जब माइक पोम्पियो ने ही भारत के चीनी एप्प को बैन करने के फैसले का स्वागत करते हुए भारत की जमकर के तारीफ़ की थी और कहा था कि भारत के इस कदम के बाद में भारत की सुरक्षा और ज्यादा बेहतर होगी. अब ऐसा कहने के महज कुछ दिनो बाद अमेरिका का इस तरह का बयान बताता है कि वो अब भारत की राह पर चलने वाला है और चीन को आर्थिक झटका देगा.

वैसे चीन की दुखती रग भी यही है क्योंकि उसे अपने अरबो की संख्या में मौजूद लोगो को पालना है और इसके लिए उसे अपनी कम्पनियों को जमाए रखना होगा. अगर चीन ऐसा नही कर पाता है तो फिर उसकी काफी सम्पति ख़ाक होते हुए देर नही लगेगी.