चीन के पूर्व सैन्य अधिकारी का दावा, गलवान घाटी में हमारे इतने सैनिक ऊपर चले गये

9184

भारत और चीन के बीच में लद्दाख बॉर्डर पर काफी लम्बे वक्त से कहा सुनी चल रहे है और ये तब बहुत ही बुरे दौर में पहुँच गयी जब गलवान में इतना कुछ हो गया जिसकी कल्पना भी किसी ने नही की थी. गलवान खाटी में बहुत बड़ी संख्या में भारत और चीन के सैनिक आपस में भिड गये थे जिसमे 20 भारत के जवान शहीद हो गये. भारत ने जानकारी सार्वजनिक भी कर दी लेकिन चीन ने ये जानकारी बाहर नही आने दी मगर सच भला छुपकर के कब तक छुपता.

जियालिंग यांग का दावा, 100 से ज्यादा चीनी सैनिक निपटे
हर देश में कोई न कोई ऐसा व्यक्ति होता है जो सच को बाहर ला देता है और ऐसा इस बार चीन के पूर्व सैन्य अधिकारी और वहां की पार्टी से भी कभी ताल्लुक रखने वाले जियालिंग यांग ने किया है. उनके दावे की माने तो चीन के गलवान में 100 से भी ज्यादा सैनिक निपट गये थे. जियालिंग यांग एक बहुत ही बड़ा और भरोसेमंद फेस है जिन पर दुनिया यकीन करती है. उनकी माने तो सरकार असली डाटा को छुपा रही है.

असली डाटा को छुपाया बस इसलिए जा रहा है क्योंकि अगर बताया जाता है कि चीन को भारत से भिड़ने में इतना भारी नुकसान उठाना पड़ा है तो फिर ऐसे में दुनिया भर में उसकी फजीहत हो जायेगी और जो देश भी उससे डरते है कि चीन कुछ कर देगा वो भी उससे डरना बंद करेंगे. चीन सिर्फ यही पर ही नही बल्कि कोरिया से भिड़ते वक्त उसका क्या नुकसान हुआ था इसे भी हमेशा से ही छुपाता रहा है और ये चीज उसकी अपारदर्शिता को दुनिया के सामने अच्छे से जाहिर कर देती है.

इस कारन से चीनी सेना में काम करने वाले लोग भी कई बार दुखी हो जाते है क्योंकि अगर वो अपने देश के लिए जान दे रहे है तो भी उनको वो रिकोग्नेशन नही मिल रही है जो कि बाकी किसी भी देश में मिलती है.