चीन ने खेली भारत के खिलाफ बड़ी चाल, अमेरिका और जर्मनी ने निभाई दोस्ती और कर दिया फेल

610

फिलहाल भारत और चीन के खिलाफ लगातार एक खींच तान चल रही है और जब से भारत में चीन के खिलाफ आर्थिक एक्शन लेने शुरू किये है उसके बाद में तो ये लगभग साफ हो ही गये है कि आने वाले वक्त में दोनों ही आमने सामने होंगे. अब भारत इतना कुछ करेगा तो जाहिर सी बात है कि चीन भी चुप तो बैठने से रहा. चीन ने भी भारत की बेज्जती करने के लिए एक तगड़ा प्लान तैयार किया था लेकिन भारत के ख़ास दोस्तों ने मिलकर के उसे पूरी तरह से विफल कर दिया.

सुरक्षा परिषद् में भारत के खिलाफ निंदा प्रस्ताव ला रहा था चीन, अमेरिका और जर्मनी ने रोका
आपको मालूम तो होगा कि हाल ही में पाकिस्तान के स्टॉक एक्सचेज में एक अटैक हुआ था और इसका जवाब पाकिस्तान ने सीधे तौर पर भारत पर लगा दिया. बस इसी मौके को भुनाकर के चीन संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् में भारत के खिलाफ माहौल बनाना चाहता था और भारत के खिलाफ एक निंदा प्रस्ताव पारित करना चाहता था ताकि हमारी रेपुटेशन नीचे गिर जाए. चीन का प्लान तो काफी अच्छा था लेकिन ये फेल कर गया.

चीन ऐसा करने के लिए तैयार हो गया था लेकिन तभी अमेरिका और जर्मनी जो भी उसी परिषद् के सदस्य है उन्होंने प्रेस स्टेटमेंट जारी करके ऐसा करने पर ऐतराज जता दिया और कहा कि हम लोग ऐसा नही करेंगे. अब इन दो देशो के सामने चीन अकेला पड गया और रूस ने भही उसे सपोर्ट नही किया तो चीन का प्रस्ताव जेब का जेब में ही रह गया, वो बाहर तो आया ही नही. इस तरह से भारत के खिलाफ इंटरनेशनल बेज्जती करने वाला चीन का ये प्लान पूरी तरह से फेल हो गया.

इससे पहले भी चीन अपनी स्पेशल पोजीशन का इन संगठनों में काफी ज्यादा फायदा उठाते आया है और भारत के खिलाफ साजिशे रचता रहा है लेकिन क्योंकि हिन्दुस्तान ने कभी भी कुछ गलत किया नही है तो फिर ऐसा हो ही नही पाया.