बड़ा खुलासा: गांधी परिवार ने इस तरह हड़प कर लिया सारा सरकारी पैसा

141

कांग्रेस पार्टी और गांधी परिवार एक लम्बे समय तक सत्ता में रहे है और कही न कही इसी कारण से उन्होंने देश के संसाधनो का, देश की शक्ति का और पैसे का जिस हिसाब से अपने लिए सही लगा उस हिसाब से बस इस्तेमाल करते ही चले गये किसी से पूछना या फिर सही है या फिर गलत ये सोचना भी ठीक नही समझा. अब ऐसा इसलिए भी है क्योंकि तब उनसे कोई पूछने की हैसियत भी नही रखा था. मगर अब जब वो सत्ता में नही है तो कई सारी चीजे है जो खुलकर के सामने आ रही है.

पीएम राहत कोष से अपने फाउंडेशन को पैसा दिलवाया, सरकारी कम्पनियों से भी ले लिया डोनेशन
जब लम्बे वक्त तक कांग्रेस की सरकार रही तब तक गांधी परिवार के बनाये हुए राजीव गांधी फाउंडेशन में जमकर के सरकारी पैसा आया और इसकी रकम तो हर किसी की सोच के परखच्चे उड़ा दे रही है. रिपोर्ट्स की माने तो जब यूपीए की सरकार थी उस वक्त चेयर पर्सन सोनिया गांधी थी और इसी दौरान गृह मंत्रालय समेत कई विभागों ने राजीव गांधी फाउंडेशन में डोनेट किया था.

अब आप खुद प्रेक्टिकली सोचिये कि आप अपना टैक्स का पैसा या फिर पीएम रिलीफ फंड में पैसा क्यों देते है? ये सोचकर के देते है कि वो सोनिया गांधी के किसी फाउंडेशन को दे दिया जाएगा? ये अपने आप में हैरान कर देने वाला है. बात यही पर ही नही रूकती है. इसके अलावा कई सरकारी कंपनियों जैसे एलआईसी, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और गेल आदि बड़ी संख्या की कम्पनियां है जिन्होंने सोनिया गांधी के इस फाउंडेशन में जमकर के पैसा दिया था और ये अरबो में रकम जा चुकी है.

गौर करने वाली बात है कि ये बाते इतिहास में दब गयी थी लेकिन जब कांग्रेस ने पीएम केयर फंड पर सवाल उठाने शुरू किये तब पुरानी बाते कई खोजी लोग ढूंढकर के ले आये और अब गांधी परिवार के इस कच्चे चिट्ठे को सबके सामने खोलकर के रखा जा रहा है.