भारत का ये बड़ा प्लान चीन के विश्व महाशक्ति बनने के सपने को मिट्टी में मिला देगा

456

चीन एक लम्बे वक्त से दुनिया की महाशक्ति बनने का ख्वाब पाल रहा है और कही न कही वो इसमें कामयाब हुआ भी है इस बात को कोई भी नकार नही सकता है. आज वो एशिया में एक बड़ी इकनोमिक पॉवर के रूप में उभरा है लेकिन आज भी वो भारत से ज्यादा ऊपर नही जा पाया है और अगर भारत चाहे तो अपने सबसे एम्बिशियस प्लान की मदद से चीन की हालत पतली कर सकता है और उसका नाम है वन सन वन वर्ल्ड वन ग्रिड. इसे लेकर के भारत के कई एक्सपर्ट्स उत्साहित है.

दुनिया के बड़े देश मिलकर के करेंगे ऊर्जा का उप्तादन, आपस में करेंगे सप्लाई और भारत करेगा लीड
आपको वन बेल्ट वन रोड इनिशियेतिव के बारे में तो मालूम ही होगा जिसकी मदद से चीन सब दुनिया को सप्लाई चैन को लेकर के खुद पर निर्भर बनाना चाहता है. वही भारत उससे भी दो कदम आगे निकलने जा रहा है अगर ये कर पाने में कामयाब हो जाता है और भारत के इस प्लान का नाम है वन सन वन वर्ल्ड वन ग्रिड.

अब इस प्लान से होगा क्या? हम सब जानते है कि सौर ऊर्जा उत्पादन करना और उसका इस्तेमाल करना बहुत ही न्यूनतम खर्च पर होता है लेकिन समस्या ये है की ये जगह बहुत घेरता है और रात में इसका उत्पाद न रूक जाता है. इसी के सलूशन के लिए भारत देशो का एक ग्रुप बनाना चाह रहा है जिसमे ब्राजील, यूएई और अफ्रीका के भी कई देश शामिल होंगे. जब भारत में रात होने पर ऊर्जा का उत्पादन रूकेगा तो दूसरी जगह पर जहाँ जिस देश में सूर्य उगा वहाँ पर ऊर्जा उत्पादन शुरू हो जायेगा. सारे देश मिलकर के ऊर्जा उत्पादित करेंगे और आपस में अपनी अपनी जरुरत के हिसाब से उसे शेयर कर लेंगे.

इससे दुनिया के कई देश भारत के साथ में ऊर्जा उत्पादन के मामले में जुड़ जयेंगे और भारत की चीन की तुलना में बाकी देशो में अच्छी बन सकती है क्योंकि ऊर्जा सबसे महत्त्वपूर्ण काम है और ये अपने आप में सब देशो के बीच में एक साझापन को विकसित करने में मदद करेगा.