दिल्ली में बढ़ते करोना के डर से केजरीवाल ने लिया ये बड़ा फैसला

224

हम लोग देख रहे है की किस तरह से देश की राजधानी नयी दिल्ली में करोना की बीमारी पाँव पसार रही है. एक के बाद एक नए केसेज आ रहे है और अधिकाँश शहर रेड जोन में जा चुका है जिसके कारण आम लोगो को तो परेशान आ रही है साथ ही साथ में सरकारे भी तंग सी हो गयी है. मगर अब इसका कुछ तो हल निकालना ही पड़ेगा. खैर अभी तो सरकारे जो भी है लोगो की गेदरिंग को टालने पर ही काम कर रही है.

केजरीवाल का फैसला, 31 जुलाई तक बंद रहेंगे दिल्ली के सारे स्कूल
दिल्ली अपने आप में शिक्षा का बहुत ही बड़ा हब बन चुका है और यहाँ पर बच्चो में पढ़ाई को लेकर के काफी उत्साह रहता है. आम तौर पर अब तो स्कूले खुलने की बाते हो रही होती है लेकिन इस बार हालातो को देखते हुए दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने फैसला किया है कि इस बार 31 जुलाई तक स्कूल चाहे वो प्राइवेट हो या फिर सरकारी हो सब के सब बंद रहेंगे. ये तब तक के लिए एक अंतरिम फैसला है, अगर बाद में भी स्थिति नही सुधरती है तो इस तारीख को और ज्यादा आगे बढाए जाने की संभावना है.

हालांकि यहाँ पर चिंता की बात ये है की एक स्टेट सरकार के तौर पर केजरीवाल सरकार कही न कही फेल नजर आ रही है. वो संक्रमण रोक पाने में न सिर्फ नाकामयाब हुई बल्कि अब उनकी सारी की सारी उम्मीदे केंद्र पर ही टिकी है जिसके चलते अमित शाह ने मोर्चा संभाला है और अब बड़ी संख्या में दिल्ली को अस्पताल, बेड्स और संसाधन उपलब्ध करवाए जा रहे है ताकि जल्द से जल्द राजधानी को इससे मुक्ति दिलाई जा सके.

अब दिल्ली में स्कूल आदि बंद रहेंगे और जाहिर सी बात है कि बच्चो की पढ़ाई काफी लेट हो जायेगी और ऐसे में उनके लिए क्या सरकार कुछ इंतजाम कर रही है इस बात का जवाब केजरीवाल सरकार के पास फ़िलहाल तो नजर नही आ रहा है.