सुप्रीम कोर्ट ने हिन्दुओ के पक्ष में सुनाया बहुत बड़ा फैसला, लोग खुश

791

इन दिनों देश भर में करोना की दिक्कत चल रही है और ये अपने आप में काफी ज्यादा परेशानी से भरा है. इसके चलते लॉक डाउन हुआ और कई लोगो को बड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ा है. ऐसा आम तौर पर पिछले तीन महीने के वक्त में हमने बार बार होते देखा है लेकिन अब जब सब खुल गया है तो फिर हिन्दू त्यौहारों और महोत्सवो के साथ में इस तरह की चीजे करना क्या ठीक है? आपको मालूम हो तो पुरी में रथ यात्रा निकाले जाने पर रोक लग गयी टी जिस पर सब लोग नाराज हो गये थे.

सरकार ने दायर की थी याचिका, सुप्रीम कोर्ट ने दी जगन्नाथ यात्रा निकाले जाने की अनुमति
सुप्रीम कोर्ट ने पहले करोना के चलते हुए जगन्नाथ यात्रा जो कि पूरी में होती है उस पर रोक लगा दी थी. इस पर केंद्र सरकार ने पुनर्विचार याचिका दायर की थी. ये गौर करने वाली बात है कि ये याचिका सरकार ने खुद दायर की थी जिसके बाद में सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला खुद ही बदलते हुए शर्त के साथ में जगन्नाथ यात्रा पुरी में निकालने की परमिशन दे दी है.

हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने साथ ही साथ में शर्त भी रखी है कि पब्लिक की हेल्थ सेफ्टी का पूरे तरीके से अच्छे से ख्याल रखा जाए. भीड़ भाड जैसी चीजे न हो और संक्रमण का खतरा न फैले. इसी शर्त के साथ में ये अनुमति मिल गयी है जिसके बाद में उड़ीसा के लोग काफी ज्यादा खुश है कि उनका ये बड़ा उत्सव रूकेगा नही और भला इससे बढ़िया बात और हो भी क्या सकती है?

हालांकि अब उडीसा में परमिशन मिली है तो बाकी राज्यों में भी जो उत्सव होते अहि उनके लिए परमिशन मांगी जायेगी और उनको सुप्रीम कोर्ट किस तरह से टेकल करता है ये तो देखने वाली ही बात होगी. अभी के लिए तो पुरी यात्रा चाहने वाले लोग खुश है.